Posted by: हरदीप कौर संधु | अगस्त 2, 2020

2064


1-मंजूषा मन

1

रो, हुआ हल्का

सारा दर्द छलका

बादल, गया।

2

धूम्र मेघ छाकर

तड़पाकर।

3

नम पलकें

कहें, गाथा पीर की

बहे, नीर की।

4

हाथों में हाथ,

रह गया सपना

तू है अपना।

5

अधूरा रहा

ये प्रेम तेरा मेरा 

हुआ अँधेरा।

-0-

2-भावना सक्सैना

1

हवा का बोल

न पहचाने कोई

सब ही मौन।

2

बरसात में

उग आई उम्मीद

फिर जी उठी।

3

मेघों का स्वर

सुन धरा आकुल

छोड़ो फुहार।

4

कंटक-वन

बरसात की धूप

बींध डालती।

5

नवयौवन

बदले व्यवहार

राह कठिन।

माँ आतंकित

भटकें न शावक

इस कानन।

7

वन सघन

राह ढूँढे जीवन

कांपता मन

8

बाहें फैलाए

राह तकें नयन

माँ को न पाएँ।

9

संयम धर

चाहतें हैं अनन्त

जो हो सो भला।

10

रेत के कण

चहूँ दिस बिखरा

वक्त का चूर्ण।

-0-

3-डॉ.भीकम सिंह

1

चाँद के साथ

अनहुई थी बात

छत पे रात ।

2

देकर नारा

मेघों के बीच चली

विद्युत– धारा ।

3

हिम की देह

बिखेर दिया सारा

पवित्र स्नेह ।

4

कौन से पथ

मेघयान चले हैं

लेके शपथ ।

5

खुमार– भरा

करवट लेता है

सावन हरा ।

-0-

एसोसिएट प्रोफेसर, मिहिरभोज कालेज दादरी,गौतम बुद्ध नगर,  उ.प्र .

bheekam02@gmail.com


Responses

  1. मंजूषा जी , भावना जी एवं भीकम जी आप सभी को अच्छे हाइकु रचने के लिए बधाई , शुभकामनाएँ ।

  2. सुंदर हाइकु!
    आप सभी को बधाई आदरणीय!
    सादर

  3. भीखम सिंह जी , भावना सक्सेना जी और मंजूषा मन जी सार्थक हाइकु की अभिव्यक्ति के लिए आप तीनों को हार्दिक बधाइयां ।

  4. सुंदर हाइकु सृजन के लिेए मंजूषा जी,भीकमजी,भावना बहुत बहुत बधाई।

  5. मंजूषा मन जी ,भावना जी एवं भीखम सिंह जी सुन्दर, अर्थ पूर्ण हाइकु ।आप सभी को हार्दिक बधाई ।

  6. सम्मानित रमेश कुमार सोनी जी, रश्मि विभा त्रिपाठी जी, विभा रश्मि जी, सुदर्शन रत्नाकर जी सुरंगमा यादव जी ! आप सभी का धन्यवाद, आभार । – भीकम सिंह

  7. हिंदी हाइकु में मेरे हाइकु प्रकाशित करने के लिए सम्पादक द्वय का बहुत बहुत आभार


रचनाओं से सम्बन्धित आपकी सार्थक टिप्पणियों का स्वागत है । ब्लॉग के विषय में कोई जानकारी या सूचना देने या प्राप्त करने के लिए टिप्पणी के स्थान पर पोस्ट न करके इनमें से किसी भी पते पर मेल कर सकते हैं- hindihaiku@ gmail.com अथवा rdkamboj49@gmail.com.

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  बदले )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  बदले )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  बदले )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  बदले )

Connecting to %s

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

श्रेणी

%d bloggers like this: