Posted by: हरदीप कौर संधु | जुलाई 11, 2019

2028


1. प्रियंका गुप्ता

1

मुस्कुरा उठे

तरलित नयन

तुम मिले तो ।

-0-

2-अनिता मंडा

1.

खुली उदासी

साँझ के आँचल से

धूसर रंग।

2.

लिख दे चुप्पी

साँझ के होठों पर

चाँद का ताला ।

3.

पंख समेटे

साँझ को घर चला

दिवस-पंछी।

4.

लिखी साँझ ने

उदास इबारतें

बिरही मन।

5.

साँझ की आँखें

सम्मोहन से भरी

देतीं पुकार।

-0-


Responses

  1. साँझ के हाइकु अच्छे हैं , बधाई ।
    रमेश कुमार सोनी , बसना

  2. सभी हाइकु सुंदर…प्रियंका जी एवं अनिता जी बधाइयाँ
    लिख दे चुप्पी….. बहुत ही सुंदर सृजन

  3. तरलित नयन- बहुत ख़ूब प्रियंका जी।
    मुझे यहाँ स्थान देकर प्रोत्साहित करने हेतु बहुत बहुत आभार।

  4. लिखी साँझ ने
    उदास इबारतें
    बिरही मन।
    बहुत खूब…| अनीता के सभी हाइकु बहुत पसंद आए, मेरी बधाई…|

    जब कभी भी अपने हाइकु को भी यहाँ स्थान पाया देखती हूँ, बेहद अच्छा महसूस होता है | इसके लिए आदरणीय कम्बोज जी और हरदीप जी का आभार |
    आप सभी को भी बहुत शुक्रिया टिप्पणी देकर उत्साह बढाने के लिए…|

  5. प्रियंका जी एवं अनिता जी सुन्दर हाइकु के लिए आप दोनों को हार्दिक बधाई ।

  6. प्रियंका जी और अनिता जी भाव पूर्ण हाइकु के लिए बधाई |

  7. बहुत खूबसूरत हाइकु, आपदोनो को बधाई.

  8. प्रियंका जी और अनीता जी के बहुत सुंदर हाइकु…बहुत-बहुत बधाई।

  9. प्रियंका जी एवं प्रिय अनिता को ख़ूबसूरत हाइकु के लिए हार्दिक बधाई !

  10. बहुत प्यारे सभी हाइकु! बहुत बधाई प्रियंका जी एवं अनिता जी!

    ~सादर
    अनिता ललित


रचनाओं से सम्बन्धित आपकी सार्थक टिप्पणियों का स्वागत है । ब्लॉग के विषय में कोई जानकारी या सूचना देने या प्राप्त करने के लिए टिप्पणी के स्थान पर पोस्ट न करके इनमें से किसी भी पते पर मेल कर सकते हैं- hindihaiku@ gmail.com अथवा rdkamboj49@gmail.com.

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  बदले )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  बदले )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  बदले )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  बदले )

Connecting to %s

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

श्रेणी

%d bloggers like this: