Posted by: रामेश्वर काम्बोज 'हिमांशु' | मई 26, 2018

1841-ई -पुस्तकें


प्रिय साथियो  !

आज आपके साथ ई-पुस्तक के रूप में निम्न लिखित संग्रह साझा करा रहे हैं , आप पुस्तक के दिए गए नाम  पर क्लिक करके इन पुस्तकों को  पढ़ सकते हैं .

सम्पादक/ रचनाकार की अनुमति के बिना किसी सामग्री का उपयोग अन्यत्र नहीं किया जा सकता और न इन पुस्तकों के किसी  अंश का उपयोग आर्थिक लाभ  के लिए  किया जा सकता है  .यह शुद्ध  रूप से ज्ञानात्मक  यज्ञ है .

1चंदनमन ( हाइकु -संगह)-सं-रामेश्वर काम्बोज ‘हिमांशु’.डॉ.भावना कुँअर

2मिले किनारे (ताँका -चोका -साझा संग्रह  ) रामेश्वर काम्बोज ‘हिमांशु’, डॉ.हरदीप कौर संधु

3-भावकलश  ( हिन्दी  का प्रथम संपादित ताँका-संग्रह ) सं-रामेश्वर काम्बोज

‘हिमांशु’.डॉ.भावना कुँअर

4-यादों के पाखी हिन्दी  का प्रथम संपादित विषयाधारित हाइकु संग्रह )-सं-रामेश्वर

काम्बोज  ‘हिमांशु’.डॉ.भावना कुँअर , डॉ.हरदीप कौर संधु

5-अलसाई चाँदनी (प्रथम संपादित सेदोका -संग्रह ) सं-रामेश्वर काम्बोज ‘हिमांशु’.

    डॉ.भावना कुँअर, डॉ.हरदीप कौर संधु

6-उजास साथ रखना (प्रथम संपादित चोका -संग्रह ) सं-रामेश्वर काम्बोज ‘हिमांशु’.

7-खोई हरी टेकरी[पर्यावरण हाइकु]-डॉ.सुधा गुप्ता

Advertisements

Responses

  1. Bahut khub!

  2. ज्ञान यज्ञ में एक साथ इतने सारे संग्रह , साधुवाद , बधाई । अवश्य ही यह सभी के लिए उपयोगी / मार्गदर्शक साबित होगा ।
    रमेश कुमार सोनी बसना

  3. वाह! बहुत बढ़िया।

  4. अरे वाह ! यह तो बहुत अच्छा किया आपने…|

  5. यह तो बहुत अच्छा है, अब जब भी चाहे हम यहाँ पढ़ सकते हैं. आपका आभार.


रचनाओं से सम्बन्धित आपकी सार्थक टिप्पणियों का स्वागत है । ब्लॉग के विषय में कोई जानकारी या सूचना देने या प्राप्त करने के लिए टिप्पणी के स्थान पर पोस्ट न करके इनमें से किसी भी पते पर मेल कर सकते हैं- hindihaiku@ gmail.com अथवा rdkamboj49@gmail.com.

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  बदले )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out /  बदले )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  बदले )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  बदले )

Connecting to %s

श्रेणी

%d bloggers like this: