Posted by: डॉ. हरदीप संधु | मई 8, 2017

1763


1- विभा रश्मि

1

माँ की ममता

शिशु का अधिकार 

निःस्वार्थ  प्यार ।

2

माँ की आँखों से

टपके जब आँसू 

ईश्वर रोया ।

3

लोरी गाकर

सुलाती माँ ललना 

बाँहें पलना ।

4

रेशमी डोरी

मीठी सुनाती लोरी 

झूला झुलाके ।

5

मैया दुलारी 

चंदा -सी है बिटिया 

फुर्र ज्यों चिया ।

6

मेरी माँ सुन ! 

तू भूखी क्यों रहती 

दुख सहती ।

7

माँ अनुरागी 

ममतामयी त्यागी 

रातों  में  जागी ।

8

शीतल छाँव

माँ के आलोड़न की 

पाए  शैशव ।

9

अँगुली थामे

शिशु चलना सीखे

माँ को क्यों  त्यागे ?

10

माँ नियरे आ 

कंठ मोहे तू लगा

कन्हैया तोरा ।

11

बुढ़ापे में माँ 

सम्मान की है भूखी 

खाती है रूखी ।

 -0-

2- डॉ.पूर्णिमा राय

1

स्वप्न झिंझोड़े

सुबक रही धरा

आऊँगा माँ!!

2

पास रह माँ

तुम बिन आकुल

मेरी ये साँसें!!

3

माँ तेरी यादें 

सुझाती रही राह

उंगली थामे!!

4

पृथ्वी की पीर

देख,भरते नैन

दूर है मैया!!

5

नयन भरे

माँ असीमित प्रेम

मिले दोबारा!!

6

अश्क तुम्हारे

सारे माँ अब मेरे

रख भरोसा!!

7

सुना माँ लोरी

मृत्यु का ये तांडव

देखा न जाए!!

8

माँ की लोरी

शहनाई के जैसे

गूँजे कानों में!!

9

फोन पे गान

धुँधली सी सुधियाँ 

लोरी गाती माँ!!

10

याद आज भी

स्वर्गलोक से मैया

सुना दे लोरी!!

11

माँ बच्चों संग                              

दिखे लाड लड़ाती

भाता है गाँव!!

-0-

डॉ.पूर्णिमा राय,

शिक्षिका एवं लेखिका

अमृतसर(पंजाब)

drpurnima01.dpr@gmail.com

-0-

3-चंचला इंचुलकर सोनी

1

तपे वसुधा
प्यासा हैं पनघट
कुम्भ उतान

2

तृप्ति की खान
शीतलता- पर्याय
माटी -गागर

3

नदी किनारे
पाप पुण्य ओसारे
कुम्भ पसारे

4

मोक्ष की चाह
विराट समागम
कुम्भ की थाह

5

गागर ऋणी
अद्भुत जिजीविषा
मरु- जीवन

6

गागर-गुण
बूँद-बूँद हैं सुधा
ग्रीष्म परीक्षा

7

रीती गागर
ले चली अग्निपथ
पनिहारन

8

रेतीला पथ
गागर भरी आस
तृषा अकथ

9

मृत्तिका शिल्प
दीनो का रोजगार
कुम्भ विकल्प

10

पूर्वज मानी
आखातीज पूर्णता
कुम्भ का पानी

-0-ccsonicc@gmail.com

Advertisements

Responses

  1. बुढ़ापे में माँ
    सम्मान की है भूखी
    खाती है रूखी ।

    विभा जी सभी हाइकु अच्छे लगे

  2. माँ बच्चों संग
    दिखे लाड लड़ाती
    भाता है गाँव!!

    पूर्णिमा जी, अच्छे हाइकु

  3. पूर्वज मानी
    आखातीज पूर्णता
    कुम्भ का पानी

    विशेष अच्छा लगा

    सभी बहुत अच्छे हाइकु।
    स्वागत

  4. बुढ़ापे में माँ \सम्मान की है भूखी \खाती है रुखी |एक बूढ़ी माँ की किंचित आस बताता सुंदर हाइकु | माँ तेरी यादें\सुझाती रही राह\उँगली थामे | माँ का महत्व बताता हाइकु तो माँ की यादों में ही बसा बच्चों के मन की वास्तविकता बता रहा है |
    रीती गागर \ले चली अग्निपथ \पनिहारिन| ग्रीष्म की विभीषिका दर्शाता सुंदर हाइकु हेतु विभा जी ,पूर्णिमा जी व चंचला जी को बधाई|
    पुष्पा मेहरा

  5. Sabhi haiku eakse badhkar eak sabhi ko meri hardik dhubhkamnayen…

  6. सभी हाइकु बहुत सुन्दर !

    ‘ईश्वर रोया’ , ‘बुढ़ापे में माँ ‘,’स्वप्न झिंझोड़े ‘ , ‘रीती गागर ‘ विशेष !

    आ. विभा दी , पूर्णिमा जी एवं चंचला इंचुलकर सोनी जी को हार्दिक बधाई !!

  7. सभी हाइकु बहुत सुंदर …आप सबको हार्दिक बधाई

  8. बहुत सुंदर सभी हाइकु। आप सभी रचनाकारों को बहुत बधाई।

  9. नयन भरे
    माँ असीमित प्रेम
    मिले दोबारा!!
    माँ के प्यारे – प्यारे हाइकु के लिये बहुत बधाई लें पूर्णिमा जी ।
    चंचला जी बहुत सुन्दर हाइकु रचना –

    रीती गागर
    ले चली अग्निपथ
    पनिहारन
    बधाई लें ।

    नेह लें विभा रश्मि

  10. प्रिय मंडा जी , सुनीता जी , पुष्पा दी , भावना जी ,ज्योत्सना जी , कृष्णा जी उत्साहवर्धक के लिये आभार ।
    माँ दिवस के हाइकुओं को स्थान देने के लिये आ.हरदीप जी व हिमांशु भाई का बहुत आभार ।
    सस्नेह विभा रश्मि

  11. विभा जी , पूर्णिमा जी,चंचला जी आप सभी को सुन्दर हाइकु के लिए बहुत बहुत बधाई ।रेणु चन्द्रा

  12. हिंदी हाइकु में स्थान देने के लिए
    आ रामेश्वर काम्बोज जी
    आ डॉ हरदीप जी …मन से आभारी हूँ
    रचना को स्नेह देने के लिए आप सभी का आत्मीय आभार

  13. मनभावन हाइकु के लिए मेरी हार्दिक बधाई आप सभी को…|


रचनाओं से सम्बन्धित आपकी सार्थक टिप्पणियों का स्वागत है । ब्लॉग के विषय में कोई जानकारी या सूचना देने या प्राप्त करने के लिए टिप्पणी के स्थान पर पोस्ट न करके इनमें से किसी भी पते पर मेल कर सकते हैं- hindihaiku@ gmail.com अथवा rdkamboj49@gmail.com.

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / बदले )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / बदले )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / बदले )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / बदले )

Connecting to %s

श्रेणी

%d bloggers like this: