Posted by: रामेश्वर काम्बोज 'हिमांशु' | दिसम्बर 1, 2016

1699


1प्रदीप कुमार दाश दीपक
1

धान की बाली
महकती कुटिया
खुश कृषक ।
2
होरी का मन
गोबर औ धनिया
रहें प्रसन्न ।
3
पूष की रात
हल्कू जा रहा खेत
मन उदास ।
4
जूही की कली
जग उपवन में
माली से छली ।
-0-

2-नरेंद्र श्रीवास्तव

1

रूप निहारे
घंटों बैठा दर्पण
बोर न होता।
2
चंचल मन
रेत-सी फिसलन
यौवन -तट।
3
आपका आना
सावन की तरह,
ग्रीष्म का जाना।
4
अँधेरा लगे
तेरे जाने के बाद
कुछ न दिखे।
5
मक्के के दाने
यादें बचपन कीं
मुँह में पानी।

6

शरद धूप
आँ
गन में आ खेले
शिशु सदृश्य।
7
नभ से आई
पवन ठिठुरती
कम्बल माँगे।

 -0-

3-मीरा गोयल

1

तितली बन
स्वछंद भटकतीं
बिसरी यादें।
2

कुण्ठित यादें
पीड़ित करें हिय

 भीजे नयन।
3

बचपन में
तितली सा उड़ता
मन अबोध।
4

किशोरावस्था
सपनों का महल
सजाये मन।
5

मधुर लगे
यौवन के सपने
सत्य न जाने।

 –0-Madan Goyal mgoyal@nc.rr.com

Advertisements

Responses

  1. बहुत सुन्दर सभी हाइकु ।नये रंग में रंगे ठंड वाले -नभ से आई /पवन ठिठुरती /कम्बल मांगे ।बहुत खूब नरेन्द्र जी ।और प्रदीप जी आपने भी पूष की रात का सुन्दर चित्र खींचा -पूष की रात /हल्कू जा रहा खेत / मन उदास । मीरा जी आप का यह वाला बहुत अच्छा लगा- तितली बन / स्वछन्द भटकती /बिसरी यादें । आप सभी को हार्दिक बधाई ।

  2. सुंदर हाइकु !
    अँधेरा लगे/तेरे जाने के बाद/कुछ न दिखे, नभ से आई/पवन ठिठुरती/कम्बल माँगे,तितली बन/स्वछंद भटकतीं/बिसरी यादें…. बहुत अच्छे लगे !
    हार्दिक बधाई …. प्रदीप जी, नरेंद्र जी व मीरा जी !!!

    ~सादर
    अनिता ललित

  3. Sabhi ravhnakaro ke haiku acche hain sabhi ko hardik badhai .
    Prdeep ji ka khaskar 4 wala bahut sundar haiku bana hai bahut pasand aya
    hardik badhai

    On Nov 30, 2016 7:01 PM, “हिन्दी हाइकु(HINDI HAIKU)-‘हाइकु कविताओं की वेब
    पत्रिका’-2010 से प्रकाशित हो रही है। आपकी हाइकु कविताओं का स्वागत है !” wrote:

    > रामेश्वर काम्बोज ‘हिमांशु’ posted: “1-प्रदीप कुमार दाश ‘दीपक’ 1 धान की
    > बाली महकती कुटिया खुश कृषक । 2 होरी का मन गोबर औ धनिया रहें प्रसन्न । 3 पूष
    > की रात हल्कू जा रहा खेत मन उदास । 4 जूही की कली जग उपवन में माली से छली ।
    > -0- 2-नरेंद्र श्रीवास्तव 1 रूप निहारे घंटों बैठा ”
    >

  4. प्रदीप जी,नरेंद्र जी ,मीरा जी
    सभी हाइकु बहुत सुंदर ..आप सबको हार्दिक बधाई

  5. सभी हाइकु ..बहुत सुंदर !!!
    .. प्रदीप जी, नरेंद्र जी व मीरा जी…..हार्दिक बधाई … !!!

  6. सभी हाइकु बहुत सुन्दर ..
    जूही की कली , शरद धूप और तितली ..अनुपम !!
    हार्दिक बधाई !!

  7. मेरे हाइकू प्रकाशित करने के लिए धन्यवाद | शशि पाधा जी की मदद से यह संभव हो पाया |

  8. सभी हाइकु बहुत मनभावन…| आप सभी को मेरी बहुत बधाई…|


रचनाओं से सम्बन्धित आपकी सार्थक टिप्पणियों का स्वागत है । ब्लॉग के विषय में कोई जानकारी या सूचना देने या प्राप्त करने के लिए टिप्पणी के स्थान पर पोस्ट न करके इनमें से किसी भी पते पर मेल कर सकते हैं- hindihaiku@ gmail.com अथवा rdkamboj49@gmail.com.

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / बदले )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / बदले )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / बदले )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / बदले )

Connecting to %s

श्रेणी

%d bloggers like this: