Posted by: रामेश्वर काम्बोज 'हिमांशु' | मई 16, 2016

1616


1-कृष्णा वर्मा

1

दिल का मकाँ

सजाना यूँ प्यार से

एँ मेहमाँ

2

कैसा था ताव

जलाई हथेलियाँ

प्रेम अलाव।

3

प्रेम वो ढब

सूफी-सूफी नैनों में

दिखता रब।

4

कूदे जो मन

यादों के दरिया में

खो किनारे।

5

यादें जो आएँ

ठहरे ना सावन

नैनों के साए।

6

सूखेंगे प्राण

बबूल के साए में

ढूँढी जो छाँव।

7

मुठ्ठी ले नून

घाव मेरे भरने

आए शालीन।

8

क्या एतबार

दुल्हन की पालकी

लूटें कहार।

9

रखना ख़्याल

कर्म स्याही ही लिखे

जीवन चाल।

10

हार लजाए

बँधी हों जो दामन

माँ की दुआएँ।

11

जीवन छले

चले ग़म की रेत

तलवे जले।

12

सह ले दुख

सम्बन्धों के आब पे

तैरेगा सुख।

13

बाँट जो खाए

शहंशाहों से ज़्यादा

धनी कहाए।

14

आँखों में आँसू

खुशियाँ बेपनाह

तृषित चाह।

15

उतरे रात

नैनो के पिंजरे की

गिरफ़्त में ख़्वाब।

16

पर्वत पीर

आँसू लगाएँ डेरा

नैनों के तीर।

17

करें आराम

धूप की चादर ले

बदरा श्याम।

18

धूप से यारी

भूले हैं बरसाना

बादल पानी।

19

रात के केश

गहराई शाम ने

सजाए तारे।

20

हौले-आहिस्ते

रात रानी गीतों से

महके रिश्ते।

-0-

2-सविता अग्रवाल सवि

1

जंगल जले

पशु हुए बेघर

ताकते खड़े ।

2

काला धुआँ

नभ को ढक गया

बना बादल ।

3

प्रभु की माया

आग या बाढ़ लाए  

दुखद साया ।

4

बुझे ना आग

दमकल भी हारे

प्रभु सहारे ।

5

काम ना आए  

आग की लपटों में

कोई उपाय ।

6

भीषण आग

जंगल खेल रहे

आग से फाग ।

-0-

Advertisements

Responses

  1. बाँट जो खाए
    शहंशाहों से ज़्यादा
    धनी कहाए।
    कृष्णा वर्मा जी
    सभी हाइकु सशक्त हैं यह विशेष है

    भीषण आग
    जंगल खेल रहे
    आग से फाग ।
    सविता यह सामयिक है सभी हाइकु सशक्त हैं यह विशेष है

  2. मेरे हाइकू को यहां स्थान देने के लिए सम्पादक द्वय का हार्दिक आभार।कृष्णा जी के सभी हाइकू से एक से एक बढ़कर हैं उन्हें मेरे ओर से बधाई ।मंजू जी आपका भी हार्दिक धन्यवाद मेरे हाइकू पसंद कर आगे लिखने के लिए प्रोत्साहित करने के लिए ।

  3. बहुत खूबसूरत हाइकु सविता जी बहुत बधाई!

  4. कृष्णा जी का हाइकु -मुट्ठी ले नून \ घाव मेरे भरने \ आये शालीन | आज के मानवीय आचरणों से पर्दा उठा रहा है| काला धुआँ (रा )\नभ को ढक गया \बादल बना| समसामयिक
    स्थिति दर्शाता हाइकु सुंदर है |दोनों रचनाकारों को बधाई
    पुष्पा मेहरा

  5. बहुत प्यारे हाइकु हैं| आप दोनों को बहुत बधाई…|


रचनाओं से सम्बन्धित आपकी सार्थक टिप्पणियों का स्वागत है । ब्लॉग के विषय में कोई जानकारी या सूचना देने या प्राप्त करने के लिए टिप्पणी के स्थान पर पोस्ट न करके इनमें से किसी भी पते पर मेल कर सकते हैं- hindihaiku@ gmail.com अथवा rdkamboj49@gmail.com.

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / बदले )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / बदले )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / बदले )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / बदले )

Connecting to %s

श्रेणी

%d bloggers like this: