Posted by: डॉ. हरदीप संधु | नवम्बर 18, 2015

1528


 1-डॉ0 विद्याविन्दु सिंह

1

मन भीतर

खारा सागर बसा

निकले आँसू।

2

दुख अकेला

एकांत में खोलता

पीर गठरी।

3

कहाँ खँगालें

उदासी की चादर

मटमैली सी।

4                          

दुःख न कहो

भीतर रहने दो

पक जाने दो।

5

पीड़ा की फाँस

धंस गयी गहरी

निकले नहीं।

-0-

2-अनिता मंडा

1

है अनुभूत

सुख-दुःख से भरे

साँझ-सवेरे।

2

पार न होता

दुःख भरा दरिया

तेज बहाव।

3

जन्मा है दुःख

कोख़ कटु-स्मृतियाँ

देती न सुख।

-0-

3-मंजूषा मन

1

सुख में साथी

पीड़ा के अवसर

साथी  कोई।

2

न मिला दुःख

क्षमता से अधिक

न ही मिलेगा।

3

दुःख ये सारे

लगे बड़े ही प्यारे

तुमने दिए।

4

सुख की आस

मिटे न किसी सूरत

मन की प्यास।

5

सुख आएगा

अब भी हूँ आस में

मन खिलेगा

-0-

3-सुनीता पाहूजा

1

 दु:सुख का

आना  जाना हैजैसे

रात व दिन

2

दु:ख बताते

जीवन में सुख की

छाँव ज़रूरी ।

3

हरि भजन

दु:ख दूर करे, दे

शाश्वत सुख

4

सच्चा मित्र वो

संग बना रहे जो

दु:सुख में

-0-

5-शशि पाधा

1

मन वेदना

पारदर्शी अँखियाँ 

कैसे छिपाएँ ?

2

हिरणा मन

बाँवरा सा ढूँढता

कस्तूरी सुख।

3

ओ रे कुम्हार !

जरा सानना तो

मिट्टी में सुख।

4

उनींदी आँखें

तैरें सुख सपने

पलकें हँसे।

5

छलक गई  

वेदन की गगरी

कब से भरी।

-0-

6-कमला घटाऔरा

1

दु:ख-कोहरा

उर नभ पे छाया

खुशी ओझल।

2

दु:ख कसौटी

आ परखती तुझे

कितना खरा।

3

दु:ख मितवा

देता सुख सन्देशा

दुत्कारूँ कैसे ?

4

सुख का ताज

पहने वो जिसने

चुभाये शूल।

-0-

Advertisements

Responses

  1. सभी हाइकु सुन्दर हैं, बधाई!

  2. कमला जी, शशि जी, सुनिता जी, मंजूषा जी, डॉ. विधा विंदु सिंह जी आप सभी के हाइकु उत्कृष्ट लगे। हार्दिक बधाई।
    आदरणीय संपादक द्वय मेरे हाइकु को यहां स्थान देने हेतु हार्दिक आभार।

  3. सुख-दुःख में लिपटे सभी हाइकु अत्यंत सुंदर एवं भावपूर्ण!
    सभी रचनाकारों को बहुत-बहुत बधाई !!!
    ~सादर
    अनिता ललित

  4. डॉo विद्याविन्दु सिंह जी ,अनिता मंडा जी ,मंजूषा जी, सुनीता पाहूजा जी ,शशि पाधा जी आप सभी के हाइकु बड़े भावपूर्ण और सुंदर लगे आप सभी को बधाई। संपादक द्वय का ह्रदय से आभार मुझे भी इस हाइकु अंक में शामिल करने के लिए।

  5. sukh -dukh mein bheege huae sabhi haiku sundar v bhaavpurn hain !sabhi rachnakaaron ko bahut -bahut badhai!

  6. डॉ विद्याबिंदु सिंह ,अनीता मंडा जी, मंजूषा मन ,सुनीता पाहुजा, शशि जी और कमलाजी आप् सभी को सुख दुःख में डूबे सुन्दर भावों से सुसज्जित हाइकु रचे है| हार्दिक बधाई |

  7. कमला जी, शशि जी, सुनिता जी, मंजूषा जी, डॉ. विधा विंदु सिंह जी, अनीता जी सभी के हाइकु उत्कृष्ट लगे। हार्दिक बधाई।

  8. सभी हाइकु बहुत उत्कृष्ट एवं भावपूर्ण हैं, सभी हाइकुकारों को बधाई.

  9. sabhi ne eak se badhkar eak haiku likhe hain meri sabhi ko shubhkamnyae…

  10. बहुत मर्मस्पर्शी हाइकु हैं सभी…आप सबको हार्दिक बधाई…|


रचनाओं से सम्बन्धित आपकी सार्थक टिप्पणियों का स्वागत है । ब्लॉग के विषय में कोई जानकारी या सूचना देने या प्राप्त करने के लिए टिप्पणी के स्थान पर पोस्ट न करके इनमें से किसी भी पते पर मेल कर सकते हैं- hindihaiku@ gmail.com अथवा rdkamboj49@gmail.com.

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / बदले )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / बदले )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / बदले )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / बदले )

Connecting to %s

श्रेणी

%d bloggers like this: