Posted by: डॉ. हरदीप संधु | अक्टूबर 26, 2015

1511


2510-2015

Advertisements

Responses

  1. बहुत सुन्दर हाइकु सुरेन्द्र वर्मा

  2. बहुत सुन्दर हाइकु ज्योत्सना जी…हार्दिक बधाई…|

  3. बहुत बहुत सुन्दर हाइकु ज्योत्स्ना जी।

    बधाई

  4. ज्योत्सना जी सुन्दर सृजन है | ले के सहारे ?यादों की कश्तियों में /पाए किनारे | मन भाया | हार्दिक बधाई |

  5. सभी हाइकु गहराई लिए हुए उत्कृष्ट

  6. मनभावन हाइकु !!बधाई ज्योत्सना जी

  7. sundar haiku badhai…

  8. dard ki prit\tum do main rachungi\meethe hi geet. bahut sunder bhav hai.jyotsna ji badhai.
    pushpa mehra.

  9. सारे हाइकु बहुत सुंदर।विशेष
    गहरी झील
    सुधियों की हंसिनी
    व्याकुल फिरे।
    बधाई।

  10. बेहद सुन्दर हाइकु…. ज्योत्स्ना जी बधाई।

  11. सभी हाइकु मनभावन ! डॉ.ज्योत्स्ना शर्मा जी बधाई।

  12. मानवीय भावो की सुन्दर अभिव्यक्ति ।बधाई!!
    डॉ०ज्योत्सना जी

  13. aap sabhii kii prerak pratikriyaayaaon kaa hruday se aabhaar …yahii meri anmol poonjii hai !

    haikuon ko yahaaan itnii sundarataa se sthaan dene hetu bahut bahut aabhaar sampaadak dway !


रचनाओं से सम्बन्धित आपकी सार्थक टिप्पणियों का स्वागत है । ब्लॉग के विषय में कोई जानकारी या सूचना देने या प्राप्त करने के लिए टिप्पणी के स्थान पर पोस्ट न करके इनमें से किसी भी पते पर मेल कर सकते हैं- hindihaiku@ gmail.com अथवा rdkamboj49@gmail.com.

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / बदले )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / बदले )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / बदले )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / बदले )

Connecting to %s

श्रेणी

%d bloggers like this: