Posted by: रामेश्वर काम्बोज 'हिमांशु' | अक्टूबर 5, 2015

बाट जोहते


1-ज्योत्स्ना  प्रदीप

1

वृक्ष खड़े है

थके ही नहीं कभी

बाट  जोहते। 

2

सोंधी महक

नहीं बची माटी में

चुप आँगन ।

3

चुप थी रात 

हँसती भोली भोर

मन की बात । 

4

बेचारा चाँद

कहता नहीं कभी

व्यथा– कथाएँ । 

5

कुछ थे  डरे 

पत्ते सहम गए

हो गए पीले

6

किसके लिए

दुबला होता चाँद

हर रात को । 

7

कैसा सावन

भीगता अन्तर्मन

सूखा आँगन । 

8

पौधों में गति

कोई तो सहमति

संग में हुई। 

9

झुक रही है

गर्दन दरख्तों की

सोच में डूबे ।

10

बरसों बीते

बादलों को इधर

बरसे नहीं ।

-0-

2-कमला घटाऔरा

 

घटोआरा

Advertisements

Responses

  1. सुन्दर, सार्थक रचनाएं!

  2. सभी हाइकु मनमोहक ज्योत्स्ना जी !
    बहुत सुंदर हाइगा आ. कमला जी !
    हार्दिक बधाई आप दोनों को !

    ~सादर
    अनिता ललित

  3. haiga aur haiku sabhi sunder hain. jyotsna ji va kamla ji badhai.
    pushpa mehra.

  4. हार्दिक बधाई आप दोनों को!!!

  5. झुक रही है
    गर्दन दरख्तों की
    सोच में डूबे ।

    बहुत उम्दा !! काश मानव भी सीख जाये झुकना

  6. कमला जी ! लाजवाब!

  7. बहुत सुन्दर हाइकु और हाइगा…..ज्योत्स्ना जी, कमला जी बहुत बधाई।

  8. haiga haiku dono sundar meri badhai..

  9. sundar bhaavapoorn haaiku aur haaigaaa ..
    dubala hota chaand …bahut pyaaraa ..
    jyotsna ji ,kamala ji ko haardik badhaii !

  10. aap sabhi se mila ye protsahan bada anmol hai mere liye …..abhaar !
    kamla ji . bada hi .pyara haiga …badhai aapko !

  11. ज्योत्सना जी सभी हाइकु बहुत सुन्दर हैं | कमला जी आपको भी प्यारा सा हाइगा रचने पर हार्दिक बधाई और शुभकामनाएं |

  12. ज्योत्सना प्रदीप जी आप के सभी हाइकु बहुत अच्छे लगे ।आप को हार्दिक बधाई ।मेरा हाइगा पसन्द करने के लिये आप सब का शुक्रिया ।सम्पादक द्वय का साभार धन्यवाद हाइगा को यहाँ स्थान देने के लिये ।

  13. किसके लिए
    दुबला होता चाँद
    हर रात को ।
    बहुत प्यारे हाइकु…हार्दिक बधाई…|

    कमला जी को खूबसूरत हाइगा के लिए बहुत बधाई…|


रचनाओं से सम्बन्धित आपकी सार्थक टिप्पणियों का स्वागत है । ब्लॉग के विषय में कोई जानकारी या सूचना देने या प्राप्त करने के लिए टिप्पणी के स्थान पर पोस्ट न करके इनमें से किसी भी पते पर मेल कर सकते हैं- hindihaiku@ gmail.com अथवा rdkamboj49@gmail.com.

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / बदले )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / बदले )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / बदले )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / बदले )

Connecting to %s

श्रेणी

%d bloggers like this: