Posted by: डॉ. हरदीप संधु | सितम्बर 26, 2015

प्यार जो मिला


[डा•सुरेन्द्र वर्मा ‘हिन्दी हाइकु’ के सम्मानित रचनाकार हैं। आप अपने कर्मशील जीवन के 83 वर्ष पूरे करके 84 वें वर्ष में प्रवेश कर रहे हैं। आपने अपने हाइकु और अपनी गहन समीक्षा-दृष्टि से अविस्मरणीय योगदान किया है। जहाँ आज लोग दूसरों की रचना पढ़कर दो शब्द कहना भी अपमान समझते हैं , ऐसे विषम समय में डॉ•सुरेन्द्र वर्मा अनेक रचनाकारों के संग्रहों की गम्भीर समीक्षा लिखकर हाइकु –परिवार का मनोबल बढ़ा चुके हैं। हमारे ‘हाइकु-परिवार’ की  कामना है कि आप  शतायु हों और नित्य इसी तरह सक्रिय रहें तथा सबको प्रेरित करते रहें।डॉ•हरदीप कौर aसन्धु -रामेश्वर काम्बोज ‘हिमांशु’]

-0-

डॉ•सुरेन्द्र वर्मा

1

सन बत्तीस

छब्बीस सितम्बर

हुए तिरासी ।

2

क्या उपलब्धि

कौन -सा तीर मारा

जान न पाया।

3

सीखी गिनती

एक-एक करके

गिनते रहे।

4

वहम पाला

एक गुणित एक

वहीं के वहीं।

5

सुख व दुःख

हिसाब बराबर

काहे का रोना ।

6

खोया.पाया भी

सर पे बोझ नहीं

रहा हलका।

7

प्यार जो मिला

सगे, परायों से भी

वही दौलत।

8

घर से चला

खुद को खोजने

खोज न पाया।

9

जपता रहा

सिर्फ अपना नाम

सुबह शाम॥

-0-

-(डा) सुरेन्द्र वर्मा / १०, एच आई जी

१, सर्कुलर रोड / इलाहाबाद -२११०११

मो. ९६२१२२२७७८

Advertisements

Responses

  1. सुरेन्द्र वर्मा जी को जन्मदिन की ढेरों शुभकामनायें

  2. डा• सुरेन्द्र वर्मा जी को जन्मदिन की शुभकामनायें | आप शतायु हों |

  3. डा० सुरेन्द्र वर्मा जी को जन्मदिन की अनेकानेक शुभकामनाएं।

  4. जन्म दिन की बहुत बहुत शुभ कामनाएं सुरेन्द्र जी……

    तुम जियो हज़ारों साल
    साल के दिन हों पचास हज़ार।

    मंजूषा “मन”

  5. डॉ. सुरेन्द्र वर्मा जी को जन्मदिन की शुभकामनाएँ!
    बेहतरीन, अप्रतिम, सारगर्भित हाइकु!
    प्रेरणा के लिये धन्यवाद!

  6. kya upalabdhi\kaun- sa teer mara\ jan na paya. mananiya verma ji har bada sahityakar yahi kahata hai ,kyonki dusaron ko prakashit karata deepak swayam apana prakash nahin dekh pata usaka guN to us prakash ko pane vala hi janata hai. ishwar kare ap shataau hon.
    pushpa mehra.

  7. जन्म दिवस की हार्दिक शुभकामनाये 🙂

  8. आदरणीय भाई सुरेन्द्र जी
    सादर नमन .
    आपको जीवेत शरदःशतम का लगे मन्त्र प्यारा . .
    आपके ज्न्क्दीन पर मेरी हार्दिक शुभकामनाएं .

  9. आत्म चिंतन परक सुन्दर हाइकु ..

    जन्मदिन की बहुत-बहुत शुभकामनाएँ आदरणीय !

    सादर
    ज्योत्स्ना शर्मा

  10. शुभकामना
    महके ये चमन
    जन्मदिवस!!१
    सुरेन्द्र वर्मा
    अप्रतिम व्यत्तित्व
    साहित्यालोक!!२
    डॉ०पूर्णिमा

  11. aadarniy dr. surendra verma ji! aapko hridy tal se anekon shubhkaamnayen …! aapke sabhi haiku bahut achche lage atm chintan ki anokhi chavi ko prastut karta –
    जपता रहा
    सिर्फ अपना नाम
    सुबह शाम॥man moh liya .

    prabhu kare apni pyari samiksho tatha haiku- lekhan se hamein isi tarah aashirvaad deten rahen .punh shubhkaamnayen!

  12. सुरेन्द्रजी शतायु हों

  13. जन्मदिन और सुन्दर हाइकुओं के लिए हार्दिक शुभकामनाएँ .

  14. प्रिय हरदीप जी और काम्बोज जी ,
    नमस्कार !
    सर्वप्रथम तो मैं आप दोनों का बहुत आभारी हूँ कि आपने मेरे जन्मदिवस हाइकु न केवल पोस्ट किए बल्कि उनके लिए एक सुन्दर परिचयात्मक टिप्पणी भी दी. इतना ही नहीं काम्बोज जी ने व्यक्तिगत रूप से मुझे फोन करके अपनी हार्दिक शुभ कामनाएं भी मुझे प्रेषित की,
    मेरे इन हाइकुओं पर जिन सुधी रचनाकारों ने अपने प्रेम और सम्मान को प्रकट करते हुए अपनी टिप्पणियाँ दी हैं मैं उनके प्रति भी अपनी कृतज्ञता प्रकट करना चाहता हूँ — सर्वश्री अमिल अग्रवाल,, सौरभ चतुर्वेदी, ज्योत्स्ना प्रदीप, डा. पूर्णिमा, ज्योत्स्ना शर्मा, मंजू गुप्ता, सुनीता अग्रवाल पुष्पा मेहरा, मंजूषा मन, कृष्णा वर्मा, तथा मंजु मिश्रा , कमला निखुर्पा, कैलाश बाजपेयी
    आप सभी को बहुत बहुत धन्यवाद. आप सबके स्नेह और सम्मानभाव से ही मैं आज तक साहित्यिक गतिविधियों में सक्रिय रह सका हूँ.
    डॉ सुरेन्द्र वर्मा
    surendraverma389@gmail.com

  15. घर से चला
    खुद को खोजने
    खोज न पाया।
    Bahut bada sach sabhi haiku bahut bhavpurn, aapko Janmdin ke anekon shubhkamnayen ..

  16. बहुत खूब !
    हार्दिक बधाई !!

  17. आदरणीय सुरेन्द्र वर्मा सर जी को जन्मदिवस की अशेष शुभकामनाएँ ! आप स्वस्थ रहें, सुखी रहें, संतुष्ट रहें ! आपकी लेखनी यूँ ही हम लोगों का मार्ग-दर्शन करती रहे एवं आपको अपूर्व संतोष-धन प्रदान करे !
    किन्हीं कारणवश देरी से यहाँ आ पाए , इसके लिए हृदय से क्षमाप्रार्थी हैं हम!

    ~सादर नमन के साथ
    अनिता ललित

  18. घर से चला
    खुद को खोजने
    खोज न पाया।……..बहुत बढ़िया!

    आदरणीय सुरेन्द्र वर्मा जी को जन्मदिन की अनेक शुभकामनाएँ। देरी के लिए क्षमाप्रार्थी हूँ।

    सादर
    कृष्णा वर्मा

  19. अच्छे हाइकू
    बधाइयाँ

  20. सुरेन्द्र वर्मा जी को जन्मदिन की हार्दिक मंगलकामनाएँ.

    बहुत सटीक और अद्भुत लिखा है, अक्सर मन में यह भाव आता है…
    क्या उपलब्धि
    कौन -सा तीर मारा
    जान न पाया।

  21. थोड़ा देर से ही सही, पर आदरणीय सुरेन्द्र वर्मा जी को जन्मदिन की अशेष शुभकामनाएँ…|
    उनकी लेखनी सचमुच बहुत गहन भाव लिए हुए है…| सभी हाइकु एक से बढ़ कर एक हैं, पर यह बहुत भाया…|
    घर से चला
    खुद को खोजने
    खोज न पाया।
    हार्दिक बधाई…|


रचनाओं से सम्बन्धित आपकी सार्थक टिप्पणियों का स्वागत है । ब्लॉग के विषय में कोई जानकारी या सूचना देने या प्राप्त करने के लिए टिप्पणी के स्थान पर पोस्ट न करके इनमें से किसी भी पते पर मेल कर सकते हैं- hindihaiku@ gmail.com अथवा rdkamboj49@gmail.com.

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / बदले )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / बदले )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / बदले )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / बदले )

Connecting to %s

श्रेणी

%d bloggers like this: