Posted by: रामेश्वर काम्बोज 'हिमांशु' | सितम्बर 24, 2015

गुज़र गई रात


डॉ०पूर्णिमा राय

1

घोर अनर्थडॉ पूर्णिमा राय

संतप्त वसुंधरा

मृत ज़मीर।।

2

रोती हैं आँखें

भटकती निगाहें

मिली मंजिल ।

3

मीठी है चीनी

घोली कड़वाहट

बनी न बात ।

4

खुले नयन

गुज़र गई रात

खोया सवेरा ।

5

 बजते ढोल

महका न आँगन

गई दुल्हिन ।

6

मन मोहक

रंग चढ़ता जाये

दिल में प्रेम।

7

मन तरंग

उठती है हिलोर

बजे मृदंग।

8

चाँद चकोर

करते हैं कलोल

चहके धरा।

9

महकी फिज़ा

खुशियां बेशुमार

दूर ख़िज़ाँ।

10

हाथ कलम

कैसे लिखूँ विचार

भटके मन।।

11

सच की राह

दुख गम से भरी

 झूठ फैलाव।

12

सोचे है रोज

लिख दूँ जग -हाल

बदला कौन।

-0-

परिचय

डॉ०पूर्णिमा राय

जन्म-तिथि-28दिसम्बर1974

शिक्षा : एम .ए , बी.एड, पीएच.डी (हिन्दी)

सम्प्रति  हिन्दी  शिक्षिका ,2001से कार्यरत

प्रकाशित कृतियाँ-1- अध्यापक प्रशिक्षण हिंदी मॉडयूल सर्व शिक्षा अभियान ,राष्ट्रीय माध्यमिक शिक्षा अभियान के तहत प्रकाशित  शैक्षणिक साहित्य। विगत 8 साल से अब तक।

2- सामान्य पत्र पत्रिकाओं में प्रकाशन -सामाजिक आलेख व काव्य रूप में।

3 आलोचनात्मक ग्रन्थ   सुरेन्द्र वर्मा का साहित्य:परंपरा तथा समकालीनता (प्रथम संस्करण2014)

4-  काव्य के रंग-2  तथा साहित्यिक समीक्षात्मक  आलेख प्रकाशनाधीन।

प्राप्त सम्मान:

1- शैक्षणिक क्षेत्र में जिला अमृतसर अध्यापक सम्मान पुरस्कार  2014

2 -सामाजिक संस्था लायन्ज क्लब द्वारा आदर्श शिक्षक सम्मान 2013

3- पत्रिका कानूनी शिकंजा द्वारा लेखिका रूप में सम्मान पत्र2015

4 – राज्य शैक्षणिक स्तर पर  साहित्यिक सेवा हेतु प्रशंसा पत्र 2010

5 -आलमी विरासत फाऊंडेशन से आदर्श शिक्षक सम्मान 2015

स.स.स.स्कूल,खब्बा राजपूताँ ,अमृतसर(पंजाब)

वर्तमान पता–  ग्रीन एवेन्यू,घुमान रोड , तहसील बाबा बकाला , मेहता चौंक,अमृतसर-143114

-0-

Advertisements

Responses

  1. Bahut sundar haiku purnima ji badhai ho!!#

  2. विभिन्न भावों के समेटे हुए आपके हाइकु बहुत अच्छे लगे | बधाई एवं स्वागत आपका |

  3. अलग अलग भावों पर लिखे गए बेहतरीन हाइकु के लिए हार्दिक बधाई…|

  4. डॉ हरदीप सन्धु जी और रामेश्वर जी !! आपका बहुत आभार!! हमारी रचना को प्रकाशित करने हेतु!!

    ऊषा ओझा जी हार्दिक शुक्रिया!

    शशि जी बहुत बहुत धन्यवाद!!

    प्रियंका जी तहे दिल से शुक्रिया!!

  5. sundar rachnaayen! swaagat..!

  6. सभी हाइकु बहुत अच्छे लगे । डॉ०पूर्णिमा राय को बधाई और शुभकामनाएं !

  7. सुन्दर हाइकू पूर्णिमा जी

    ख़ुशी हुई आपको यहाँ देख कर।

    बधाई

  8. सभी हाइकु दिल को छु देने वाले .
    बधाई

  9. बहुत सुन्दर हाइकु | हार्दिक बधाई, पूर्णिमा जी |

  10. डॉ. पूर्णिमा जी आपके हाइकु बहुत उत्कृष्ट है। समाज के विभिन्न पहलुओं को आपने बड़ी सुंदरता से कम शब्दों में सजाया है। इस प्रयास के लिए आपको हार्दिक बधाई व शुभकामनाएँ।

  11. अच्छे हाइकु…आपका हिंदी हाइकु में हार्दिक स्वागत ।

  12. डॉ पूर्णिमा जी आपका हिदी हाइकु में स्वागत है | सभी हाइकु भिन्न भिन्न भाव लिए हुए हैं |एक दो हाइकु ने प्रेरित किया हैं कुछ लिखने के लिए | बधाई |

  13. आभार सभी विद्वजनों का !!
    अमित जी, सुभाष जी, मंजूषा जी, मंजू जी, सुनील जी, डॉ सरस्वती माथुर, सविता जी
    आपकी प्रतिक्रिया लेखन को सशक्त आधार देने में सहायक होगी।

  14. सभी सुन्दर हाइकु !
    वंदन अभिनन्दन और बहुत बधाई डॉ. पूर्णिमा जी !

  15. abhimnandan ke saath -saath hardik badhai sunder srajan ke liye purnima ji !


रचनाओं से सम्बन्धित आपकी सार्थक टिप्पणियों का स्वागत है । ब्लॉग के विषय में कोई जानकारी या सूचना देने या प्राप्त करने के लिए टिप्पणी के स्थान पर पोस्ट न करके इनमें से किसी भी पते पर मेल कर सकते हैं- hindihaiku@ gmail.com अथवा rdkamboj49@gmail.com.

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / बदले )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / बदले )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / बदले )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / बदले )

Connecting to %s

श्रेणी

%d bloggers like this: