Posted by: डॉ. हरदीप संधु | अगस्त 28, 2015

भाई का नेह


ज्योत्स्ना शर्मा (1)

रक्षा-बन्धन के पावन पर्व पर सबको हार्दिक बधाई! जन्म-जन्मान्तर तक राखी बाँधने वाले  हाथ और और बँधवाने वाली कलाई सदा सलामत रहें।

सदा आपके साथ , हमारे भी हाथ -डॉ हरदीप सन्धु और रामेश्वर काम्बोज’हिमांशु’

1-डॉ सुधा गुप्ता

1

कच्चे धागों से

उम्र भर के लिए

बाँधे बहना ।

2

कुंकुम -टीका

राखी बाँध के पाया

रक्षा -कवच

-0-

2-कमला निखुर्पा

1

हाथ में राखी

हुआ रे मन पाखी

उड़ता जाए ।

2

भाई का नेह

मन मरुथल में

बरसे मेह ।

3

भाई ना आए

रो-रोकर संदेशा

राखी सुनाए ।

-0-

अनितामण्डा3-डॉ जेन्नी शबनम

1

भाई न आया

पर्वत– सा ये मन

फूट के रोया !

2

राखी का थाल

बहन का दुलार

राह अगोरे !

-0-

4-डॉ अर्पिता अग्रवाल

1

राखी बन्धन

संस्कृति सहेजता

निश्छल प्रेम

2

रिश्तों की डोरी

सजती कलाई पे

अटूट नाता

-0-

5-रमेश गौतम

1

नदी बेचारी

लहरों की राखियाँ

किसको बाँधे

2

नेह अनन्त

धागों के बन्धन में

आदि न अंत

-0-

6-पुष्पा मेहरा           

1          

दमक रहे

रेशमी लड़ियों में

दुआ के बूटे ।

2  

हवा ने बाँधी

एह्सासों की राखी

जग के हाथों ।

-0-

7-शशि पाधा

1

डाकिया भाई

ढूँढना जरा झोला

क्या राखी आई ?

2

प्रतीक्षारत

सीमाओं के प्रहरी

राखी का ख़त

-0-

ज्योत्स्ना शर्मा (2)8-अनिता मंडा

1

भाई-बहन

रेशम के धागों से

बँधा है मन।

2

धागों में पिरो

अनमोल खज़ाना

बाँधे बहना।

-0-

9-सविता अग्रवाल ‘सवि’

1

रेशम– डोर

बाँधे प्रेम– बंधन

ओर न छोर

2

नन्हा -सा भाई

निहारता राखियाँ

भरी कलाई

-0-

10-डॉ सरस्वती माथुर

1

राखी की डोर

बहिन ने बाँधी तो

भाई विभोर ।

2

धागे का साथ

कभी न छूटे भैया

बहना का हाथ ।

-0-

11-कमल कपूर

1

रक्षा की डोर

स्नेह से सराबोर

पर्व विभोर ।

2

रक्षा वचन

भाई को दे बहन

नव चलन ।

-0-

Advertisements

Responses

  1. रक्षाबंधन के पावन-पर्व की हार्दिक शुभकामनाएँ।
    हाइकु की सुंदर रखियाँ मनमोहक हैं।

  2. बहुत सुन्दर हाइकु राखियाँ !
    समस्त हिंदी हाइकु परिवार को रक्षाबंधन की हार्दिक शुभ कामनाएँ !

  3. परदेस में
    मैं निहारती राह
    भाई की चाह।

    आया न भाई
    राखी देखकर यूँ
    फूटी रूलाई।

    Itne payar rang birnge haiku, haiga dekhkar man khush ho gaya or udas bhi meri sabhi ko shubkamnaye …

  4. sbhi rchnaen bhaai – bahan ke anmol prem ke dhaage men liptaa nirpeksh prem ki sundr rasaanubhuti

    sbhi ko badhaai
    prv ki shubh kaamnaaen

    himaanshu bhaai aur hardip didi kaa aabhaar mujhe bhi aap sab ke saath sthaan milaa .

  5. राखी पर रचे सभी हाइकु मनभावन लगे सभी रचनाकारों को शुभकामनाएं और बधाई .

  6. रंगबिरंगी राखियाँ लेकर आए हाइकु मन की कलाइ पर राखी बाँध गये ।नेह केइस बन्धन का प्यार सदा बना रहे हाइकु के हर सदस्य को रक्षा बन्धन की बहुत बहुत वधाई।

  7. सभी हाइकु संदर व मनभावन।
    सभी को ढ़ेरों बधाईंयां

  8. apne – apne Dh.ng se manobhavon ko abhivyakt karate haiku pavan parv mein mithas bhar rahe hain. adarniya didi ko naman va anya sabhi rachnakaron ko badhai.
    pushpa mehra

  9. सभी हाइकु श्रेष्ठ … मन को मुग्ध कर गए पर शशिजी के ये दो हाइकु मुझे रुला गए …

    डाकिया भाई
    ढूँढना जरा झोला
    क्या राखी आई ?

    प्रतीक्षारत
    सीमाओं के प्रहरी
    राखी का ख़त

    १७ अक्षरों में पूरा भाव संसार समेटना चुनौती है भावपूर्ण रचनाएं … बधाई सबको

    कमला निखुर्पा

  10. भाई बहन के अनुपम प्रेम में पगे इन प्यारे-प्यारे हाइकु और हाइगा के लिए सबको बहुत बधाई…|

  11. raakhi jaise hi pyare haiku aap sabhi ko bahut -bahut badhai .


रचनाओं से सम्बन्धित आपकी सार्थक टिप्पणियों का स्वागत है । ब्लॉग के विषय में कोई जानकारी या सूचना देने या प्राप्त करने के लिए टिप्पणी के स्थान पर पोस्ट न करके इनमें से किसी भी पते पर मेल कर सकते हैं- hindihaiku@ gmail.com अथवा rdkamboj49@gmail.com.

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / बदले )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / बदले )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / बदले )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / बदले )

Connecting to %s

श्रेणी

%d bloggers like this: