Posted by: रामेश्वर काम्बोज 'हिमांशु' | अगस्त 21, 2015

ठेस से टूटे


7-PhotoGrid_1440092185274PhotoGrid_1440039070612 PhotoGrid_1440040201087 PhotoGrid_1440059104071 PhotoGrid_1440091551235 PhotoGrid_1440091818883 PhotoGrid_1440092628994 PhotoGrid_1440093071148

Advertisements

Responses

  1. ये सभी हाइगा बेहतरीन हैं । अनिता मंडा जी को बधाई और शुभकामनाएं !

  2. vaah shabdo ka karishimaa .
    badhaai

  3. मेरे हाइगा को यहां स्थान देने के लिए संपादक द्वय का आभार।

  4. बहुत भावपूर्ण हाइगा….अनीता जी बधाई!

  5. chitr aur haiku dono sunder anita ji badhai.
    pushpa mehra.

  6. सुन्दर भावों से भरे बहुत सुन्दर हाइगा ,,बधाई अनिता जी !

  7. ह्रदय को छू गए है अनीता जी आपके हाइगा |बधाई |

  8. सभी मन मोहक हाइगा अनिता जी वधाई ।अंकुरित हो रहा ठूंठ पर लिखा बहुत अच्छा लगा … शब्दों का चयन लुभा गया … हुआ स्पंदन/ ठूँठ से जीवन में / लौटा चेतन ।

  9. anita ji aapki lekhni par ma ki kripa isi tarah bani rahe…bahut manmohak haiga ….badhaiyaan .!

  10. अनीता जी…आपके हाइगा बहुत प्यारे हैं…| मेरी बधाई…|

  11. बहुत ही प्यारे हाइगा हैं सभी !
    अनीता जी आपको ढेरों बधाई!
    नन्हीं बिटिया को ढेर सारा स्नेहाशीर्वाद !

    ~सादर
    अनिता ललित


रचनाओं से सम्बन्धित आपकी सार्थक टिप्पणियों का स्वागत है । ब्लॉग के विषय में कोई जानकारी या सूचना देने या प्राप्त करने के लिए टिप्पणी के स्थान पर पोस्ट न करके इनमें से किसी भी पते पर मेल कर सकते हैं- hindihaiku@ gmail.com अथवा rdkamboj49@gmail.com.

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / बदले )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / बदले )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / बदले )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / बदले )

Connecting to %s

श्रेणी

%d bloggers like this: