Posted by: रामेश्वर काम्बोज 'हिमांशु' | जून 29, 2015

दिनों का फेर


1-कमला घटाऔरा

1

होते न पा

सूखा कंकाल तन

कौन पूछता ?

2

कभी था ठूँठ

नेह -जल वर्षा से

हो गया हरा।

रूठी पवन

न थे पत्ते, न फूल

किसे झुलाती?

4

पाई ताज़गी 

खिला -खिला बदन

धन्य बसंत !

पेड़ देता है

छाया और सुकून

आँखों को भाता ।

ऋतु– महिमा

गान गातें परिंदें

झूम-झूम के।

हवा हो खुश

छन्न छन्न आ नाचें

पत्तों के संग।

8

हरी दूब भी

प्यार से बतियाए

पास बुलाए ।

9

दिनों का  फेर

सबके संग चले

धैर्य सँभाले।

​-0-

2-सविता अग्रवाल’सवि’      

1

हवा की प्रीत

पात शर्माए हुए

दुहरे हुए

2

वर्षा ऋतु में

नहाए धुले पेड़

धूप में भायें

3

प्रकृति– देन

रंगों की भरमार

नयना मग्न

4

पथिक आया

घने वृक्षों की छाया

आराम पाया

5

उड़ी पतंग

नभ निहारें नैन

मनवा दंग

6

सुहाना लगे

पेड़ों का झुरमुट

झाँकता नभ

7

हवा से डर

माला जपते पात

रुख बदलें

8

चंचल मन

बहे नव तरंग

पिया न संग

9

ठहरी झील

प्रतिबिंबित जल

छोर अचल

10

वर्षा की बूँदें

तपती देह पर

झरें चन्द्र -सी

-0-

Advertisements

Responses

  1. sabhi haiku bahut hi achhe likhe hain kamla aur savita ji ko badhai.
    pushpa mehra.

  2. सविता अग्रवाल जी,आप के हाइकु नयनाभिराम दृश्यों को लेकर आये बहुत सुंदर लगें हैं। इस हाइकू में तो आपकी रचना की कारीगरी छिपी हुई है। वाह! … हवा की प्रीत /पात शर्माए हुए। दुहरे हुए। वधाई। मुझे भी इस हाइकु लोक में स्थान देने के लिए दोनों संपादकों का बहुत बहुत आभार।

  3. सभी हाइकु बहुत सुन्दर हैं ..लेकिन ..पत्तों के संग छन्न-छन्न आ नाचती हवा ..और ..माला जपते पात अद्भुत लगे !

    दोनों रचनाकारों को हार्दिक बधाई !!

  4. बहुत सुन्दर सभी हाइकु…’हवा की प्रीत’ हाइकु विशेष रूप से मन को भाया!
    कमला जी, सविता जी को बहुत बधाई!

  5. आप सभी का ह्रदय से आभार |

  6. Savita ji aur Kamala ji ko badhai

    sundar rachnayen

  7. कभी था ठूँठ
    नेह -जल वर्षा से
    हो गया हरा।

    सुहाना लगे–
    पेड़ों का झुरमुट
    झाँकता नभ।

    prkrti chitrn bada achha laga hardik badhai…

  8. कभी था ठूँठ
    नेह -जल वर्षा से
    हो गया हरा।
    नेह जल तो किसी में भी प्राण फूँक सकता है |

    हवा से डर
    माला जपते पात
    रुख बदलें।
    बहुत सुन्दर |
    आप दोंनो को बधाई…|


रचनाओं से सम्बन्धित आपकी सार्थक टिप्पणियों का स्वागत है । ब्लॉग के विषय में कोई जानकारी या सूचना देने या प्राप्त करने के लिए टिप्पणी के स्थान पर पोस्ट न करके इनमें से किसी भी पते पर मेल कर सकते हैं- hindihaiku@ gmail.com अथवा rdkamboj49@gmail.com.

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / बदले )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / बदले )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / बदले )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / बदले )

Connecting to %s

श्रेणी

%d bloggers like this: