Posted by: डॉ. हरदीप संधु | मई 28, 2015

खोजते अपनों को


डॉ•आशा पाण्डेय

डॉ आशा पाण्डेय1

सपने में था
सुख का सरोवर,
जागी, उजाड़।

2

जीवन-नदी
उमड़ी हर बार
बाँधों से घिरी

3

जलती आग
पेट से दिल तक
चूल्हा उदास

आम आदमी
देखता है सपने-
खाने में दाल

5

मधु- सी मीठी
उतरी दिल तक
वाणी सरस ।

6

 जलती बाती
दे रही है रोशनी
खुद को मार

7

पानी की बूँद
मिटाकर खुद को
बनती मोती ।

 भूखा बालक
देख रहा चंद्रमा
रोटी की चाह

9

बूढ़े नयन
खोजते अपनों को
भरे घर में

10

कड़वे बोल
सहे बेमन से ही
मन ही मन

11

जुटे बादल
दिल में घनघोर
बरसी आँखें!

12

सूनी दीवार
तस्वीरों से सजाई
मन का क्या हो!

13

प्यारी सी माँ वो
विदा हुई जब से
,
उजड़ा घर

14

 बेटी का प्रेम
सहलाती बयार
बड़ी मधुर

15

बेटी बेचारी
सीखे बस जोड़ना
रिश्ते व घर ।

16

मुखर प्रेम
माँगता समर्पण
दूसरों से ही

17

बिकता प्रेम,
खरीद लेती झट
किसी भी भाव

18

ग्राम देवता
भरें सबका पेट
पीते
हर

19

देवी -दर्शन
कोख में बेटी मार
दोगलापन

20

ये मजदूर
बनाते हैं घर
खुद बेघर ।

-0-

डॉ• आशा पाण्डेय

शिक्षा:- एम ए पी-एच डी( प्राचीन इतिहास)

लेखन:धूप का गुलाब,चबूतरे का सच(कहानी संग्रह),  बादल को घिरते देखा है(यात्रा वृत्तांत),तख्त बनने लगा आकाश(कविता संग्रह),खिले हैं शब्द (हाइकु- संग्रह),दिया जलाती लेखनी (दोहा संग्रह),: विभिन्न पत्र पत्रिकाओ मे रचनाएँ  प्रकाशित,

सम्मान: महाराष्ट्र राज्य हिन्दी साहित्य अकादमी का मुंशी प्रेमचंद पुरस्कार,: राधेश्याम चितलांगिया पुरस्कार,, म.प्र. तुलसी सम्मान

पता: डां आशा पाण्डेय,5,योगीराज शिल्प,आई.जी बंगला के सामने,कैम्प,अमरावती.444602,महाराष्ट्र

 

-0-

Advertisements

Responses

  1. प्रिय सखी आशा आपके सुंदर हाइकु पढ़ कर दिल खुश हो गया ,आपको बधाई और शुभकामनायें!

  2. आशा जी के हाइकू जीवन के कई पक्षों की परतें खोलते हैं ,बहुत बधाई

  3. सभी हाइकु बेहतरीन हैं। डॉ•आशा पाण्डेय जी को बधाई और शुभकामनाएं !

  4. sandes deta sunder v sateek haiku…….
    देवी -दर्शन
    कोख में बेटी मार
    दोगलापन । sabhi haiku bahut badhiya. badhai..asha ji…………. meethe svagat ke saath ..

  5. ये मजदूर–
    बनाते हैं घर
    खुद बेघर ।

    bahut sunder haiku …..swagat hai aasha ji …..

  6. सभी हाइकु बहुत सुन्दर , प्रभावी हैं …

    मधु- सी मीठी
    उतरी दिल तक
    वाणी सरस ।……अनुपम !!

  7. bahut sundar haiku!
    Asha ji, welcome!!

  8. सभी अतिसुन्दर मार्मिक हाइकु. बहिन जी को हार्दिक बधाई व नमन .

  9. सुंदर पेशकश

  10. bahut hi sundar sargarbhit haiku sabhi ,,badhayi shubhkamnaye 🙂

  11. डॉ आशा पाण्डेय जी को इतने भान पूर्ण हाइकु लिखने के लिए बधाई |विशेषकर देवी दर्शन….. ने मन को छुआ |
    सविता अग्रवाल “सवि”

  12. डॉ आशा पण्डे जी हाइकु परिवार में आपका हार्दिक स्वागत है!
    सभी हाइकु बहुत ही सुंदर एवं भावपूर्ण हैं -विशेषकर
    जलती आग
    पेट से दिल तक
    चूल्हा उदास ।–दिल को छू गया।

    बहुत-बहुत बधाई आपको !

    ~सादर
    अनिता ललित

  13. ये मजदूर–
    बनाते हैं घर
    खुद बेघर ।
    sahi kaha aapne bahut sunder haiku
    rachana

  14. बहुत सुन्दर भावपूर्ण प्रस्तुति आशा जी…..बहुत बधाई!

  15. ghar parivar bhukh garibi sabhi par bahut khub likha hai aapne sadhe haiku lage aapke. bahut bahut badhai….

  16. anek haiku marmik aur prabhavshali hain. hardik badhai.

  17. आप सभी का दिल से आभार

  18. प्रभावकारी हाइकु हैं सभी…हार्दिक बधाई…|


रचनाओं से सम्बन्धित आपकी सार्थक टिप्पणियों का स्वागत है । ब्लॉग के विषय में कोई जानकारी या सूचना देने या प्राप्त करने के लिए टिप्पणी के स्थान पर पोस्ट न करके इनमें से किसी भी पते पर मेल कर सकते हैं- hindihaiku@ gmail.com अथवा rdkamboj49@gmail.com.

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / बदले )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / बदले )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / बदले )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / बदले )

Connecting to %s

श्रेणी

%d bloggers like this: