Posted by: डॉ. हरदीप संधु | अप्रैल 9, 2015

माँ


सुमन कपूरसुमन कपूर

1

माँ का हृदय

करता इंतजार

सूना आँगन।

2

देख खिलौने

झरते झर झर

माँ के नयन।

3

कोख है खाली

दर– दर भटकी 

माँ की ममता।

4

बेसहारा माँ

ताने कई हज़ार

कोख में बेटी।

5

जाया पेट का

जाता अकेला छोड़

अंतिम यात्रा।

-0-

सुमन कपूर

शिक्षा    :      एम एस-सी (गणित) बी.एड

पता  :सुमन कपूर मकान नम्बर 176/8 बंगला मोहल्ला मंडी हिमाचल प्रदेश पिन 175001

Mail Id :   suman.k.meet@gmail.com

ब्लॉग  :       बावरा मन http://www.sumanmeet.blogspot.com

                 अर्पित सुमन http://www.arpitsuman.blogspot.com

आत्मकथ्य: अपने बारे में क्या कहूँ…..हिमाचल प्रदेश के शहर मंडी में रहती हूँ। आजकल लेखाकार के पद पर कार्यरत हूँ। विज्ञान की छात्रा होते हुए भी हिंदी और साहित्य की तरफ रुझान था। मन के जज्बात को कलम से पन्नों पर लिखने की कोशिश करती हूँ। पहले लेखन डायरी के पन्नों तक ही सीमित था वर्ष 2010 ब्लॉग जगत में अपने पहले ब्लॉग “बावरा मन”( <http://www.sumanmeet.blogspot.com/> ) से कदम रखा और कुछ समय बाद दूसरा ब्लॉग “अर्पित सुमन” <http://www.arpitsuman.blogspot.com/>  ) शुरू किया।  ब्लॉग जगत से बहुत प्रोत्साहन मिला। वटवृक्ष ,समसामयिक सृजन, सृजनलोक , नव्या ,सृजक ,अभिनव इमरोज,उत्पल, पुष्पवाटिका और डेली न्यूज़ व् पत्रिका आदि पत्रिकाओं और समाचार पत्रों में रचनाएँ प्रकाशित। बोधि प्रकाशन द्वारा  ‘स्त्री होकर सवाल करती है’ और ‘माँ की पुकार’ साझा काव्य संग्रह प्रकाशित। बस यूँ ही कारवाँ चल पड़ा शब्द पथ पर। बस यही है परिचय मेरा … बाकी एक कवि का परिचय उसकी कविता से बढ़कर और कौन दे सकता है भला …!!

 -0-

Advertisements

Responses

  1. सुन्दर हाइकु !
    स्वागत सुमन जी!

  2. सुंदर हाइकु !
    बधाई सुमन जी !

    ~सादर
    अनिता ललित

  3. ma ke roop mein nari ki gatha kahate haiku bahut achhe likhe hain .suman ji badhai.
    pushpa mehra.

  4. स्वागत सुमन जी …माँ पर अच्छे हाइकु !

  5. देख खिलौने
    झरते झर झर
    माँ के नयन।
    bahut khoob haiku
    badhai aur svagat
    rachana

  6. बहुत सुन्दर हाइकु, सुमन जी |

  7. utkrisht haiku

  8. बहुत भावपूर्ण सुन्दर हाइकु सुमन जी !
    हार्दिक बधाई !!

  9. बहुत खूब सुमन जी, हमारे हाइकु परिवार में आपका स्वागत है | शुभकामनाएं |

    शशि पाधा

  10. माँ के लिए कहने सुनने को जैसे सारे शब्द कम पड़ जाते हैं…| अच्छे लगे सभी हाइकु…| बहुत बधाई…|


रचनाओं से सम्बन्धित आपकी सार्थक टिप्पणियों का स्वागत है । ब्लॉग के विषय में कोई जानकारी या सूचना देने या प्राप्त करने के लिए टिप्पणी के स्थान पर पोस्ट न करके इनमें से किसी भी पते पर मेल कर सकते हैं- hindihaiku@ gmail.com अथवा rdkamboj49@gmail.com.

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / बदले )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / बदले )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / बदले )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / बदले )

Connecting to %s

श्रेणी

%d bloggers like this: