Posted by: रामेश्वर काम्बोज 'हिमांशु' | मार्च 9, 2015

ज़िन्दगी की लकड़ी


PRADEEP GARG PARAG1-प्रदीप गर्ग ‘पराग

1

निशा-दुल्हिन

भर माँग सितारे

वर पुकारे ।

2

थाल निराला

उलट दे रजनी

मोतियों वाला ।

3

नाम रेत पे

उकेरा  तो मगर

मिटा न पाए ।

4

काटती रही

ज़िन्दगी की लकड़ी

काल-कुल्हाड़ी ।

5

घोड़े को एड़

लगाई थी हमने

भागते पे।

6

हो न विमुख

दु:ख की कोख से ही

उपजे सुख ।

7

दिया तो व्योम

काट डाले मगर

सारे ही पर ।

-0-

जन्म: 01 अप्रैल , 1956, शामली, उत्तर , प्रदेश)

शिक्षा: एम एस-सी , एम एड  एम ए

पता-1785, सेक्टर-16,फ़रीदाबाद-121002

-0-

2-सौरभ चतुर्वेदी

1

तोड़ लो खूब

पत्ती-टहनी-डाली

जड़ें हैं बाक़ी

2

चटकी कली

गुञ्जार भ्रमर की

पुष्पालिंगन

3

चाहा जैसे ही

बरसना मेघों ने

बरसे लोग

-0-

Advertisements

Responses

  1. bahut achchhe!

  2. हो न विमुख
    दु:ख की कोख से ही
    उपजे सुख ।
    जीवन का सत्‍य । बहुत ही सुन्‍दर हाइकु।हार्दिक बधाई ।

  3. sabhi sundar haaiku
    badhaayi Saurabh ji n Pradeep ji

  4. सुंदर हाइकु ! विशेषकर

    काटती रही
    ज़िन्दगी की लकड़ी
    काल-कुल्हाड़ी ।

    हार्दिक बधाई…. प्रदीप गर्ग ‘पराग’ जी तथा सौरभ चतुर्वेदी जी।

    ~सादर
    अनिता ललित

  5. seema smiriti gunjan agrawal and anita ji ka bahut aabhar…

  6. हो न विमुख
    दु:ख की कोख से ही
    उपजे सुख ।sakratmak bhaav liye sundar haiku …hardik badhai .

  7. काटती रही
    ज़िन्दगी की लकड़ी
    काल-कुल्हाड़ी ।

    हो न विमुख
    दु:ख की कोख से ही
    उपजे सुख ।

    बहुत सुन्दर हाइकु…..बधाई!

  8. थाल निराला
    उलट दे रजनी
    मोतियों वाला सुन्दर हाइकु |बधाई प्रदीप जी |

    तोड़ लो खूब
    पत्ती-टहनी-डाली
    जड़ें हैं बाक़ी जीवन दर्शन | बधाई |

  9. काटती रही
    ज़िन्दगी की लकड़ी
    काल-कुल्हाड़ी ।

    चटकी कली
    गुञ्जार भ्रमर की
    पुष्पालिंगन ।
    aapdono ko badhai
    rachana

  10. काटती रही
    ज़िन्दगी की लकड़ी
    काल-कुल्हाड़ी ।
    क्या बात है…!

    चाहा जैसे ही
    बरसना मेघों ने
    बरसे लोग ।
    अनोखा…!

    बहुत बधाई…|

  11. आप सभी प्रशंसकों का आभार और धन्यवाद |

  12. achhe lage sabhi haiku badhai…


रचनाओं से सम्बन्धित आपकी सार्थक टिप्पणियों का स्वागत है । ब्लॉग के विषय में कोई जानकारी या सूचना देने या प्राप्त करने के लिए टिप्पणी के स्थान पर पोस्ट न करके इनमें से किसी भी पते पर मेल कर सकते हैं- hindihaiku@ gmail.com अथवा rdkamboj49@gmail.com.

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / बदले )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / बदले )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / बदले )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / बदले )

Connecting to %s

श्रेणी

%d bloggers like this: