Posted by: रामेश्वर काम्बोज 'हिमांशु' | मार्च 5, 2015

मन रंग के


हाइगा1-डॉ.ज्योत्स्ना शर्मा

1

आया तो आया

फागुन बटोहिया

क्या-क्या  है लाया ?

2

खोल पोटली

बिखेरे फगुनवा

रंग हजार ।

3

पूनम रात

बिछा रहा चाँदनी

रसिक चंदा ।

4

धरा मगन

ओढ़ के चुनरिया

रंग बिरंगी ।

5

बिना गुलाल

गोरी का मुखड़ा तो

हो गया  लाल ।

6

पिया जो आए

सखियाँ निगोड़ी ये

ज़रा न भाएँ ।

7

स्याह रात के

मुख पर मलता

चाँद चाँदनी ।

8

पिया न संग

उड़ गया गोरी के

मुख का रंग ।

9

रंग हज़ार

छेड़ दिए क्यों कर

मन के तार ।

10

क्या खेले फाग

विरहन की होली

टेसू है आग ।

11

कैसा धमाल

क्या फगवा ? घर में

आटा न दाल ।

    -0-

2-शशि पुरवार

1

होली है प्यारी

रंग भरी पिचकारी

सखियाँ न्यारी

2

 मारे गुब्बारे

लाल पीले गुलाबी

रंग लगा रे

3

प्रेम की होली

दूर बैठी सखियाँ

मस्तानी टोली

4

होली की मस्ती

प्रेम का  है खजाना

दिलों की बस्ती

 5

चढ़ा के भंग

मौजमस्ती संग

बजाओ चंग

-0-

3-डॉ सरस्वती माथुर

1

दही होलिका

मन की बुराइयाँ

संग में जली ।

2

फाग आया तो

मन हुआ पलाशी

तन भी  रँगा ।

3

वाह री होली

फागुनी बयार में

भंग है घोली ?

4

रंग उड़े तो

फाग चिड़िया बोली

करो ठिठोली।

5

मन रंग के

फागुनी हवाओं ने

डफ़ बजाया।

6

होली के रंग

रंगरेज बन कर

मन को रँगे।

7

होली उमंग

सैंयाँ बजाये चंग

पीकर भंग।

8

मन -आँगन

फगुनौटे मौसम

रोप दिये हैं।

9

मन के राग

फागुनी हवाओं संग

गा रहे फाग ।

10

शोख फागुन

मनचला हो गया

रंगों से छेड़े !

11

चंचल फाग

बासंती  बरजोरी

रंगों की डोरी l

-0-

4-विभा रानी श्रीवास्तव

1

अँक हो तंग

मिटे जलन जंग

स्नेह बौछारें ।

2

धूल की होली

बवंडर बनाती

हवा खेलती ।

3

रंग बौछार

सतरंगी बहार

खुश संसार ।

4

आशीष रंग

चमक बिखेरता

गुलाल– संग ।

5

सखियाँ टोली

रंगों से भरी झोली

प्यार की हो ली।

-0-

Advertisements

Responses

  1. rangon umangon bharee sundar prastuti …haardik shubh kaamanaayen !

  2. होली की असीम शुभकामनायें ….. दीदी के सभी हाइकु बेहद खुबसुरत

  3. 1-डॉ.ज्योत्स्ना शर्मा जी ,शशि जी व विभा जी बहुत सुंदर हाइकु
    बधाई ! स्नेही हरदीप जी व स्नेही कम्बोज भाई मेरे हाइकु को पत्रिका में स्थान देने के लिये आभार!
    सी हिंदी हाइकु से जुड़े मित्रों को होली की हार्दिक शुभकामनाएँ ।

  4. holi ki hardik shubhkamnayen …. sundar haiku

  5. holi ke rango or msti se bharpur khubsurat haiku …:)

  6. खिलते रहें
    रंग खुशी के सदा
    दुआ हमारी ….बहुत बहुत आभार और हार्दिक शुभ कामनाओं के साथ

    ज्योत्स्ना शर्मा

  7. डॉ.सरस्वती माथुर जी , शशि जी ,विभा जी बहुत बहुत सुन्दर हाइकु ..हार्दिक बधाई !

  8. भले ही होली बीते कई दिन हो गए, पर इन रंगीले हाइकु कि छटा में कोई कमी नही आई है…|
    सबको हार्दिक बधाई…|


रचनाओं से सम्बन्धित आपकी सार्थक टिप्पणियों का स्वागत है । ब्लॉग के विषय में कोई जानकारी या सूचना देने या प्राप्त करने के लिए टिप्पणी के स्थान पर पोस्ट न करके इनमें से किसी भी पते पर मेल कर सकते हैं- hindihaiku@ gmail.com अथवा rdkamboj49@gmail.com.

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / बदले )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / बदले )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / बदले )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / बदले )

Connecting to %s

श्रेणी

%d bloggers like this: