Posted by: रामेश्वर काम्बोज 'हिमांशु' | जनवरी 28, 2015

नन्ही कोपल


1-शैफाली गुप्ता , कैलिफ़ोर्निया 

1

नव अंकुर

भरमाये है मन

कोमल तन

2

नन्ही कोपल

सुख-सपने देखे

मन ही मन ।

3

स्वप्निल  नैन

आई जब खबर

जन्मा अंकुर ।

-0-

2-कशमीरी  लाल चावला

1

बावरा मन

बावरी -सी महक

भटके नैन

2

फूल तो  खिले

इंतजार  हो रहा

कोई आ मिले ।

3

अकेला चाँद

रात का चौकीदार

देता पहरा ।

Advertisements

Responses

  1. नन्ही कोपल
    सुख-सपने देखे
    मन ही मन ।
    -0-
    फूल तो खिले
    इंतजार हो रहा
    कोई आ मिले ।
    bahut sunder haiku aap dono ko badhai
    rachana

  2. नन्ही कोपल
    सुख-सपने देखे
    मन ही मन ।

    फूल तो खिले
    इंतजार हो रहा
    कोई आ मिले ।
    sunder ,salone haiku…aap dono ko badhai .

  3. स्वप्निल नैन
    आई जब खबर
    जन्मा अंकुर ।
    सुन्दर…|

    अकेला चाँद
    रात का चौकीदार
    देता पहरा ।
    क्या बात है…बहुत सुन्दर…|
    हार्दिक बधाई आप दोनों को…|


रचनाओं से सम्बन्धित आपकी सार्थक टिप्पणियों का स्वागत है । ब्लॉग के विषय में कोई जानकारी या सूचना देने या प्राप्त करने के लिए टिप्पणी के स्थान पर पोस्ट न करके इनमें से किसी भी पते पर मेल कर सकते हैं- hindihaiku@ gmail.com अथवा rdkamboj49@gmail.com.

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / बदले )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / बदले )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / बदले )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / बदले )

Connecting to %s

श्रेणी

%d bloggers like this: