Posted by: डॉ. हरदीप संधु | जनवरी 28, 2015

खिल गए हैं फूल


डॉ अर्पिता अग्रवाल

1

सर्द हवाएँ

दाना ना आशियाना

मरे परिन्दे ।

2

नई है सोच

शिक्षा या अहंकार

टूटे घरौंदे ।

3

पिघली बर्फ़

खिल गए हैं फूल

आया वसन्त ।

4

बर्फ़ ही बर्फ़

आरम्भ है न अंत

अंटार्कटिका ।

5

पहाड़ी भालू

ढूँढता  हरियाली

जमी बर्फ़ में ।

6

खिली जो घाटी

फूलों भरा समुद्र

उफन पड़ा ।

7

सहारा ढूँढ

ऊँची शाख पहुँची

नाजु़क बेल ।

8

सफ़ेद तारे

टँके हरी साड़ी पे

महकी  बेला ।

9

चटक रंग

फूलों की बहारों ने

लुटाए सदा ।

10

परिंदे गाते

प्रकृति की महिमा

सुर ताल से ।

11

दबी वेदना

बनी ज्वालामुखी

वर्षों के बाद ।

12

 परिक्रमा में

चाँद तारे औधरा

जीवन पाते ।

13

 माया का जाल

सतरंगी दुनिया

प्रभु ने रची ।

14

तैरें सीपियाँ

नभ रूप सागर

आया वसंत ।

15

क्रूर कोहरा

छिप गया सूरज

काँपता दिन ।

16

सजी है धरा

फूलों भरी साड़ी में

वसन्त आया ।

17

शिखा पर्यंत

प्रफुल्ल है मालती

वसंत देख ।

18

डूबता चाँद

थका सा राजहंस

उतरा घाट  ।

19

शृंगार कर

रूपमुग्धा प्रकृति

प्रतीक्षारत ।

20

वसंत प्रभा

वृक्ष,लता समूह

हैं पुलकित ।

21

पुष्प सौरभ

प्रदर्शित करता

अपनी कला ।

-0-

 

 

 

Advertisements

Responses

  1. bahut badhiya , bansti hayku…

  2. अर्पिता अग्रवाल के वासंती हाइकु बहुत सुन्दर हैं, बधाई – सुरेन्द्र वर्मा

  3. खिली जो घाटी
    फूलों -भरा समुद्र
    उफन पड़ा ।
    sunder drishy prastut kiya hai
    badhai
    Rachana

  4. prakriti ka sunder roop darshate pyare haiku.badhai arpita ji

  5. प्राकृतिक सुन्दरता से सजे उतने ही खूबसूरत हाइकु के लिए हार्दिक बधाई…|


रचनाओं से सम्बन्धित आपकी सार्थक टिप्पणियों का स्वागत है । ब्लॉग के विषय में कोई जानकारी या सूचना देने या प्राप्त करने के लिए टिप्पणी के स्थान पर पोस्ट न करके इनमें से किसी भी पते पर मेल कर सकते हैं- hindihaiku@ gmail.com अथवा rdkamboj49@gmail.com.

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / बदले )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / बदले )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / बदले )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / बदले )

Connecting to %s

श्रेणी

%d bloggers like this: