Posted by: डॉ. हरदीप संधु | दिसम्बर 17, 2014

खुशियाँ मिलें


1-सुभाष लखेड़ा

1

खुशियाँ मिलें

फूलों जैसे तुम्हारे

चेहरे खिलें।

2

तरक्की करो

जीवन में अपने

खुशबू भरो।

3

यही है धर्म

करते रहें सदैव

निष्काम कर्म।

4

वही है पाप

जब करोगे दुःखी

किसी को आप।

5

फल जो मिले

दिल में न रखना

शिकवे- गिले। 

6

रखिए ध्यान

हमेशा बना रहे

आत्म सम्मान।

7

अपने वही

हमेशा दें जो हमें

सलाह सही।

8

खुश रहिए

जो हो मनभावन

वही कहिए।

9

जलाएँ दीप

जहाँ भी हो अँधेरा

करें सवेरा।

-0-

2-शैफाली गुप्ता, कैलिफ़ोर्निया 

1

जी है उदास

आई जो माँ की याद 

बरसे मेघ ।

2

भीनी खुशबू 

बसी माँ के आँगन 

जीवन-पुष्प ।

3

बुद्ध-सी शान्ति 

गोदी में है समाई 

और क्या इच्छा ?

4

माँ का चेहरा 

प्रभु की हो मूरत 

एक समान ।

5

माँ बनी हूँ मैं 

माँ-सी बन पाई मैं?

खुद-से पूछूँ ।

6

यादें बौर -सी 

अमिया का वो पेड़ 

भुला न पाऊँ ।

7

स्नेह-आशीष  

सुकून का बिछौना 

माँ की ममता ।

8

दुल्हन बनी ,

माँ की जो परछाई 

सताती यादें ।

-0-

Advertisements

Responses

  1. yadon aur shubh kamnaon se bhare hue sabhi haiku bahut sunder likhe hain .subhas ji va shefali ji ko badhai.
    pushpa mehra.

  2. jivan men aanad hi aanaad ho ,,,sab ko khushi mile,,,

  3. सभी हाइकु अतिसुन्दर!

    वही है पाप
    जब करोगे दुःखी
    किसी को आप।-सुभाष जी

    बुद्ध-सी शान्ति
    गोदी में है समाई
    और क्या इच्छा ?-शैफाली जी

    बहुत अच्छे लगे।
    आप दोनों को हार्दिक बधाई !

    ~सादर
    अनिता ललित

  4. Nice

    On Wednesday, December 17, 2014, “हिन्दी हाइकु(HINDI HAIKU)-‘हाइकु कविताओं
    की वेब पत्रिका’-2010 से प्रकाशित हो रही है। आपकी हाइकु कविताओं का स्वागत है
    !” wrote:

    > डॉ. हरदीप संधु posted: “1-सुभाष लखेड़ा 1 खुशियाँ मिलें फूलों जैसे
    > तुम्हारे चेहरे खिलें। 2 तरक्की करो जीवन में अपने खुशबू भरो। 3 यही है धर्म
    > करते रहें सदैव निष्काम कर्म। 4 वही है पाप जब करोगे दुःखी किसी को आप। 5 फल
    > जो मिले “

  5. Hardik badhai bahut bhavpurn lage haiku Kuchh yaaden taja ho aayin..,

  6. सभी हाइकु सुन्दर लेकिन ‘धर्म’ और ‘पाप’ को बहुत सुन्दरता से कहा आदरणीय सुभाष लखेड़ा जी हार्दिक बधाई !

    माँ को समर्पित सभी हाइकु बहुत सुन्दर ,मोहक हैं शैफाली जी बहुत बधाई !

  7. सुभाष जी और शेफाली जी आप दोनों को ही जीवन सत्य से जुड़े हाइकु लिखने पर हार्दिक बधाई |

  8. bhaavpurn haiku…subhash ji v shefali ji ko haardik badhaie.

  9. बहुत भावपूर्ण हाइकु हैं…| सभी बेहद पसंद आए |
    आप दोनों को हार्दिक बधाई…|


रचनाओं से सम्बन्धित आपकी सार्थक टिप्पणियों का स्वागत है । ब्लॉग के विषय में कोई जानकारी या सूचना देने या प्राप्त करने के लिए टिप्पणी के स्थान पर पोस्ट न करके इनमें से किसी भी पते पर मेल कर सकते हैं- hindihaiku@ gmail.com अथवा rdkamboj49@gmail.com.

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / बदले )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / बदले )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / बदले )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / बदले )

Connecting to %s

श्रेणी

%d bloggers like this: