Posted by: हरदीप कौर संधु | नवम्बर 27, 2014

सोया सूरज


1-सुनीता अग्रवाल

 1

धुंध के मोती

हरे दुशाला टाँके

ओढ़े धरती

2

सोयी कलियाँ

सुख भरी निंदिया

धुंध– रजाई  ।

3

मंजिलें वही

कुहासे में खो गए  

डगर सभी

4

खड़े हैं ठूँठ

सर्द हवा झेलते

वसंत आस

5

बरसो बाद

पिघले ग्लेशियर

मिला जो ख़त

6

सोया सूरज

कुहासे की रजाई

ठण्ड है भाई ।

7

बूढ़ी हड्डियाँ

आ गयी सहलाने  

जाड़े की धूप ।

8

बर्फ ही बर्फ

भीतर या बाहर

है  हिमयुग

9

हो रही  साँझ

ठिठुर रहे रिश्ते

खोजते ताप

10

धूप की ताप

पिघला नहीं  पाया

रिश्तो का हिम

11

सर्द है रात

तेरी यादों ने छुआ

जले अलाव ।

12

पर्वत -माला

साल भर ओढ़ती

हिम -दुशाला

-0-

2- मंजु मिश्रा

1

सर्द रातों में

ओढ़ लेती है हवा

बर्फ ही बर्फ ।

2

ठिठुरती हैं  

हड्डियाँ, काँपता है

तन-बदन।

3

भीगती रात

ठिठुरती चाँदनी

काँपते गात

4

उगता सूर्य

पिघलता कोहरा

भागती सर्दी  ।

5

सर्दी की भोर

सहमी ,शरमाई

नववधू -सी  ।

6

चुराती  मानों

सूरज से नजरें ,

जाड़ों की भोर

-0-


Responses

  1. शीत से जुड़े ये सभी हाइकु बेहतरीन हैं। मंजु मिश्रा जी और सुनीता अग्रवाल जी, आप दोनों को हार्दिक बधाई।

  2. बहुत सुन्दर हाइकु ! विशेषकर-
    हो रही साँझ
    ठिठुर रहे रिश्ते
    खोजते ताप

    सर्द है रात
    तेरी यादों ने छुआ
    जले अलाव ।—सुनीता जी

    तथा

    सर्दी की भोर
    सहमी ,शरमाई
    नव बधू -सी ।

    चुराती मानों
    सूरज से नजरें ,
    जाड़ों की भोर। —मंजु जी

    आप दोनों को हार्दिक बधाई !

    ~सादर
    अनिता ललित

  3. सुनीता अग्रवाल जी और मंजु जी सर्दी का बहुत प्रभावशाली वर्णन किया है । सार्थक लेखन की यही गति बनाए रखिए ।

  4. सर्दी की भोर
    सहमी ,शरमाई
    नव बधू -सी ।

    मंजु जी के हाइकु बहुत ही सुन्दर ..बधाई
    संपादक द्वय का हार्दिक आभार मेरी रचनाओं को यहाँ स्थान देने के लिए
    सभी साथियो का हार्दिक आभार उत्साह बढाने के लिए 🙂

  5. सुनीता जी और मंजु जी दोनों को सुदर हाइकु की रचना करने पर हार्दिक बधाई |

  6. प्रभावशाली हाइकु | सर्दी सजीव हो गई | बधाई आप दोनों को |

    सादर,
    शशि पाधा

  7. बर्फ ही बर्फ
    भीतर या बाहर
    है हिमयुग
    बहुत गहरे भाव छिपे हैं इनमे…|

    चुराती मानों
    सूरज से नजरें ,
    जाड़ों की भोर
    बहुत सुन्दर…|
    बेहतरीन हाइकु के लिए आप दोनों को हार्दिक बधाई…|


रचनाओं से सम्बन्धित आपकी सार्थक टिप्पणियों का स्वागत है । ब्लॉग के विषय में कोई जानकारी या सूचना देने या प्राप्त करने के लिए टिप्पणी के स्थान पर पोस्ट न करके इनमें से किसी भी पते पर मेल कर सकते हैं- hindihaiku@ gmail.com अथवा rdkamboj49@gmail.com.

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  बदले )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  बदले )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  बदले )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  बदले )

Connecting to %s

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

श्रेणी

%d bloggers like this: