Posted by: डॉ. हरदीप संधु | अगस्त 10, 2014

जोड़े मन का नाता


1-डॉ जेन्नी शबनम

1

रेशमी धागा

जोड़े मन का नाता

नेह बढ़ाता ।

2

सूत है कच्चा

जोड़ता नाता पक्का

आशीष देता ।

3

रक्षा- कवच,

बहन ने है बाँधी

राखी जो आई ।

-0-

2-रचना श्रीवास्तव

1

बरसे सुख

दुःख की बदली से

भाई जो पास

2

सावन जैसे

बरसे है नयन

भाई न आया ।

3

सुनी कलाई

बहन गयी दूर

आँसू की राखी।

4

डाकिया आया

लेकिन नहीं लाया

आज भी राखी।

5

बहन नहीं

उदास है कलाई

भाई की आज।

6

हवा में नमी

भाई समझ जाए

दुखी है लाडो ।

०-

3-गुंजन अग्रवाल

1

ताकती द्वार

बहन अश्रुधार

भाई का प्यार ।

2

सजी कलाई

हँस पड़ी अँखियाँ

राखी जो आई ।

3

डाकिया आया

राखी- अक्षत -रोली

साथ है लाया ।

4

धागा है कच्चा

महज़ब न देखे

रिश्ता ये सच्चा ।

5

रक्षाबंधन

नोंकझोंक से भरा

स्नेहिल मन ।

6

स्नेह अपार

दुआओं से भरा है

भाई का प्यार ।

7

बहना आजा

सरहद पुकारे

ले सूत धागा ।

8

पहन राखी

भाई है इतराया

बना है पाखी ।

9

सीमा के पार

राखी का इंतजार

बहना प्यार ।

10

राखी का पर्व

दीदी का स्नेह मिला

भाई को गर्व ।

11

पूनों का चाँद

राखी बन चमका

नभ आनंद ।

12

प्यार से पगे

सूत के कच्चे धागे

कलाई बँधे ।

13

बिफरा भाई

थक सोयी अँखियाँ

राखी न आई ।

14

आशीष धन

चाहे बस बहना

न कि कंगन ।

-0-

4-ॠता शेखर ‘मधु’

1

एक ही चाह

हो सदा सुरक्षित

भइया मेरा

2

दुआ हजार

हर धागे में गुँथा

रेशमी प्यार

3

भाई के द्वार

देखो लेकर चली

अमूल्य प्यार

4

बाहें पसारे

बहना का स्वागत

भाई के द्वारे

5

सुन लो भाई

अबकी जो न आए

करूँ लड़ाई

6

शुभकामना

रेशमी डोरी संग

भाई ,थामना

7

देहरी खड़ी

भइया की बहना

ले राखी-लड़ी

8

शहीद भाई

सजा राखी की थाली

बहना रोई

9

दूर हैं तो क्या

राखी के दोनो छोर

भाई -बहन

10

व्यस्त जीवन

राखी के दिन मिले

भाई बहन

11

रोली चंदन

लिफाफों ने निभाया

रक्षाबंधन

-0-

5-सविता मिश्रा

1

बहन बिना

अँखियाँ अश्रु- भरी

राखी त्योहार   

2

गर्व से फूली

बाँध सैनिक हाथ

बहना प्यार

3

प्रेम बंधन

बाँधी भाई कलाई

अमोल राखी

4    

बहन प्यार

कच्चा नहीं, फौलादी

रक्षाबंधन

-0-

6-सीमा स्मृति

1

है दूर देश

व्याकुल हुआ मन

रक्षाबंधन ।

2

ये धागे नहीं

अटूट एतबार

स्नेह अपार ।

-0-

7- मंजु गुप्ता

1

प्रेम रत्नों की

आशीर्वाद से गूँथी

भैया ये राखी ।

2

रक्षा राखी से

रक्षित रहें स्त्रियाँ

ढाल – से भाई ।

3

रिश्तों की डोर

बिखरे जीवन को

राखियाँ जोड़े ।

4

पेड़ों को बाँधू

पर्यावरण राखी

न कटे पेड़ ।

-0

8-पुष्पा मेहरा

1

जोहती बाट

बैठी सजाए थाल

थाल में राखी ।

2

प्रेम की रोली

दुआओं के अक्षत

हाथ में राखी ।

3

भागी उदासी

छुट्टी ले आए भैया

बँधाई राखी ।

4

साँझ मुहाने

सीमा – प्रहरी चाहे

हाथ में राखी ।

5

बोला है कागा

आएगी राखी आज

सोचे सैनिक ।

   -0-

9-डॉ नूतन गैरोला

1

रक्षाबंधन है

विश्वास का प्यार का

पर्व अनोखा

2

स्नेह में डूबे

दुआओं में रहते

भाई- बहन

3

अटूट रिश्ता

सुदृढ़ करती  है

रेशम- डोरी

4

पावन डोरी

बँधी कलाई में

राखी आई

5

राखी के संग

बचपन के रंग

ले कर आना !

6

अबकी वर्षा

मन भाये राखी में

आये हैं भैया

7

राखी कहती

बाँधू इक डोर में

ख़ास वो रिश्ता

8

तुमसे वादा

दूँ मैं उम्र अपनी

भाई भुलि का

 -0-

(भुलि … पहाड़ी /गढ़वाली में छोटी बहन)

-0-

Advertisements

Responses

  1. भाई बहन के पावन रिश्ते को सहेजता बहुत ही भावपूर्ण पोस्ट…सभी भाई बहनों को रक्षाबंधन की असीम शुभकामनाएँ…आभार !!|

  2. bahut pyare pyare bhai bahan ke pyar se saje haiku… sabhi ko rakshabandhan kii hardik shubhkamnayen ..

  3. पावन-पर्व के स्नेह को बहुर सुंदर शब्दों में बाँधा है सभी हाइकुकारों ने। सभी को रक्षाबंधन की बधाई और शुभकामनाएँ !

  4. हवा में नमी
    भाई समझ जाए
    दुखी है लाडो ।

    राखी के संग
    बचपन के रंग
    ले कर आना !
    bahuts sundar haiku hain sabko rakhi ki hardik badhai.
    saadr,
    amita kaundal

  5. बहुत खूबसूरत हाइकु आप सबको रक्षाबंधन की शुभकामनाएं ।

  6. सभी सुंदर हाइकु
    बधाई .

  7. आप सभी का आभार
    बहुत बहुत बधाई
    माफ़ी चाहूंगी देर से टिप्पाणी देने के लिए …/\…

  8. बहुत उम्दा हाइकु सबको बधाई

  9. सभी हाइकु सुंदर हैं । सहज दिल को छूने वाले। बधाई स्वीकारें।

  10. हाइकु सभी उम्दा भावपूर्ण है सबको बधाई

  11. रक्षा बंधन को लेकर लिखे सभी हाइकु बहुत सामायिक एवं सुन्दर हैं मन को बहुत भाए। आप सभी बधाई के साथ शुभकामनाएं भी स्वीकार करें !

  12. वाह ! रक्षा बंधन के पावन अवसर पर प्रेषित सभी हाइकु बहुत सुन्दर | कहीं भाई बहिन का स्नेह बंधन है , कहीं सैनिकों की चाह है, कहीं परदेसी बहन की पीड़ा है और कहीं अक्षत , रोली, मिठाई सजी है | सभी रचनाकारों को हार्दिक बधाई |

  13. उत्कृष्ट हाइकु लेखन के लिए आप सभी को हार्दिक बधाई ।
    ~ सौरभ चतुर्वेदी

  14. bahut khoobsurat haiku ….aap.sabhi ko hardik badhai .

  15. नेह के मीठे अहसास में पगे इन हाइकु के लिए हार्दिक बधाई…|


रचनाओं से सम्बन्धित आपकी सार्थक टिप्पणियों का स्वागत है । ब्लॉग के विषय में कोई जानकारी या सूचना देने या प्राप्त करने के लिए टिप्पणी के स्थान पर पोस्ट न करके इनमें से किसी भी पते पर मेल कर सकते हैं- hindihaiku@ gmail.com अथवा rdkamboj49@gmail.com.

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / बदले )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / बदले )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / बदले )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / बदले )

Connecting to %s

श्रेणी

%d bloggers like this: