Posted by: डॉ. हरदीप संधु | मई 14, 2014

सजें सितारे


गुलदस्ता1-डॉ ज्योत्स्ना शर्मा

1

दिल तो चाहे

बिखरा दूँ कलियाँ

राहों में तेरी

2

चुन लूँ काँटे

पथ से मैं तुम्हारे

खिलें बहारें

3

आशा की धूप

खुशियों की चाँदनी

भर दे रूप

4

तेरी मुस्कान

निशा मेरे मन की

पाए विहान

5

साथी मेरे

नयनअश्रु तेरे

हो दर्द मेरे

6

मन पुकारे

दु: ,सन्ताप  हारें

सजें सितारे

7

क्यों हो बेरंग,

प्यार  हो  सबके ही

लहू का रंग

-0-

1-दुआएँ2-अनिता ललित

1

मेरी दुआएँ

सदा साथ हैं तेरे

हटें बलाएँ।

2

मेरे दिल की

हर धड़कन में

तुम्हीं बसे हो।

3

ये मेरी जान

तेरी ही धरोहर

क्या मैं? क्या मेरा?

4

फूल जो खिलें

सब तेरे हवाले

मैं चुनूँ काँटे।

5

करूँ साकार-

तुम्हारे सपनों को

दे दूँ नज़र !

6

हों द्वारे तेरे

नित नए सवेरे

सुखों के डेरे।

7

दीप जलाऊँ

तेरी राह सँवारूँ

तारे सजाऊँ !

8

कष्ट के शूल

चुन-चुन के सारे

बिछा दूँ फूल ।

9

तेरा जीवन

सदा ही महकाऊँ

मैं धूप -बाती।

-0-

3-भावना सक्सैना

1

दुआएँ मेरी

संग रहेंगी सदा

हो तुम जहाँ।

2

खिली धूप हो

रंग इंद्रधनुषी

सजे दुनिया।

3

छुए जो तुम्हे

बरसा जाए सुख

महके हवा।

4

जीवन तेरा

हो स्वस्थ प्रमुदित

औ प्रफुल्लित।

5

रातें उजली

दिन हों सुवासित

प्रिय हों संग।

-0-

-0-

10262237_476922995740833_8822588676606574408_n

 

Advertisements

Responses

  1. बहुत ही खूबसूरत हाइकु ज्योत्सना जी ….बहुत बहुत बधाई !

  2. सुन्‍दर हाइकु हार्दिक बधाई।

  3. सभी हाइकु बहुत-बहुत सुन्दर !

    ज्योत्स्ना शर्मा जी …

    क्यों हो बेरंग
    प्यार हो सबके ही
    लहू का रंग ~ अतिसुन्दर !

    भावना सक्सैना जी…

    खिली धूप हो
    रंग इंद्रधनुषी
    सजे दुनिया~ अतिसुन्दर

    काश!
    ये दुआएँ…
    अपना असर दिखाएँ…
    ~आमीन !!!

    ~सादर
    अनिता ललित

  4. हृदय से आभार सरस्वती जी ,सीमा जी एवं अनिता जी !!

    बहुत सुख बरसाते ,महकते हाइकु हैं आपके अनिता जी ,भावना जी ….

    तेरा जीवन
    सदा ही महकाऊँ
    मैं धूप -बाती।…

    छुए जो तुम्हे
    बरसा जाए सुख
    महके हवा।………लाजवाब …हार्दिक बधाई !!!

  5. उत्कृष्ट हाइकु

    हृदय से आभार सरस्वती जी ,सीमा जी एवं अनिता जी

  6. jyotsana ji,anita ji,bhavna ji…duaon se sarabor karte haikuon ko naman hai ….sabhi pyaare …yeh bohot khoobsurat lage…:) 🙂 🙂 🙂

    तेरा जीवन
    सदा ही महकाऊँ
    मैं धूप -बाती।

    जीवन तेरा
    हो स्वस्थ प्रमुदित
    औ प्रफुल्लित।

  7. तेरी मुस्कान-
    निशा मेरे मन की
    पाए विहान ।
    jyotsana ji ….yeh haiku swayam me sundar prarthana ka bhaav samete hue hai …badhai ho aapko 🙂 🙂 ❤ ❤

  8. ज्योत्स्ना जी, भावना जी ,अनीता ललित जी, प्रेम और सद्भाव के रंग से रंगे हाइकु के लिए बधाई स्वीकारें |

    शशि पाधा

  9. jyotsna ji, bhavna ji, anita ji sadbhavna se bhare sabhi haiku achhe likhe hain badhai.
    pushpa mehra.

  10. प्रोत्साहन के लिए हृदय से आभार सरस्वती जी ,सीमा जी एवं अनिता जी, ज्योत्सना जी, शशि जी, पुष्पा मेहरा जी

    ज्योlत्सना शर्मा जी,
    आशा की धूप
    खुशियों की चाँदनी
    भर दे रूप ।…… बहुत सुंदर

    आनीता जी,
    हों द्वारे तेरे
    नित नए सवेरे
    सुखों के डेरे।……..वाह!!!

    आदरणीय भाई साहब व हरदीप जी का आभार, समय समय पर नए विषय देकर सृजन को प्रोत्साहित करने के लिए… आप दोनों के लिए विशेष –

    राहें आपकी
    सदा जगमगाएं
    मेरी दुआ ये।

    …..सादर

  11. दुआओं की बौछारों से भिगोते लाजवाब हाइकु….ज्योत्स्ना जी, अनीता ललित जी, भावना सक्सेना जी को बहुत-२ बधाई !

  12. अपनों के लिए दिल से निकली दुआओं की महक है इन हाइकु में…सभी बहुत भावपूर्ण…मन को छूने वाले…सबको बधाई…|


रचनाओं से सम्बन्धित आपकी सार्थक टिप्पणियों का स्वागत है । ब्लॉग के विषय में कोई जानकारी या सूचना देने या प्राप्त करने के लिए टिप्पणी के स्थान पर पोस्ट न करके इनमें से किसी भी पते पर मेल कर सकते हैं- hindihaiku@ gmail.com अथवा rdkamboj49@gmail.com.

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / बदले )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / बदले )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / बदले )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / बदले )

Connecting to %s

श्रेणी

%d bloggers like this: