Posted by: डॉ. हरदीप संधु | मई 3, 2014

पैसा


डॉ जेन्नी शबनम

1

पैसे ने छीने

रिश्ते नए पुराने

पैसा बेदिल ।

2

पैसा गरजा

ग़ैर बने अपने

रिश्ता बरसा ।

3

पैसे की वर्षा

भावनाएँ घोलता

रिश्ता मिटता ।

4

पैसा कन्हैया

मानव है गोपियाँ

खेल दिखाता ।

5

पैसे का भूखा

भरपेट है खाता,

मरता भूखा ।

6

काठ है रिश्ता

खोखला कर देता

पैसा दीमक ।

7

ताली पीटता

सबको है नचाता

पैसा घमंडी ।

8

पैसा अभागा

कोई नहीं अपना

नाचता रहा ।

9

पैसा है चंदा

रंग बदले काला

फिर भी भाता ।

10

मन की शांति

लूट कर ले गया

पैसा लुटेरा ।

11

मिला जो पड़ा

चींटियों ने झपटा

पैसा शहद ।

12

गुत्थम-गुत्था

इंसान और पैसा

विजयी पैसा ।

13

बने नशेड़ी

जिसने चखा नशा

पैसे है नशा ।

14

पैसा ज़हर

सब चाहता खाना

हसीं असर ।

15

नाच नचावे

छन-छन छनके

हाथ न पैर ।

 

Advertisements

Responses

  1. डॉ जेन्नी शबनम जी, आपको सुन्दर हाइकु सृजन के लिए हार्दिक बधाई। आपकी भावनाओं के समर्थन में मैं इतना कहना चाहूँगा कि
    ” पैसा आता है / अहंकार के साथ / हमारे पास। ”
    और
    ” पैसा जाता है / कमर तोड़कर / कष्ट देता है। “

  2. man ki shanti,, lut kar le gaya, paisa lutera .satya hai.isakke sath sabhi haiku utkrisht koti ke hain.apake haiku ko padh kar mainkahana chahati hun- paise ka bhut ,sir chadha rahata,chain chhinata.jenni ji apako bahut badhai.
    pushpa mehra.

  3. पैसे की माया को कहते बहुत यथार्थ परक हाइकु ..बधाई जेन्नी जी !

  4. काठ है रिश्ता
    खोखला कर देता
    पैसा दीमक ।…. …….बहुत सुंदर हाइकु। बधाई जेन्नी जी !

  5. डॉ जेन्नी शबनम जी को सुंदर भावाव्यक्ति के लिए बधाई

  6. पैसा गरजा

    ग़ैर बने अपने

    रिश्ता बरसा ।…..
    जेन्नी शबनम जी,बहुत सुंदर हाइकु। बधाई

  7. सच्चाई से ओतप्रोत हैं ये सारे हाइकु…एक बिलकुल ही नए-से विषय पर लिखने के लिए बधाई…|

  8. sabhI sundar haiku dil ko chU gaye. sAdar naman.

  9. नाच नचावे
    छन-छन छनके
    हाथ न पैर ।

    पैसा कन्हैया
    मानव है गोपियाँ
    खेल दिखाता ।

    जेन्‍नी जी ठीक कहा ये पैसा ही रास रचता, खेल दिखाता । सभी हाइकु सच्‍चाई से ओतप्रोत सभी हाइकु । बधाई।

  10. सच! पैसे का मुखौटा उतार कर दिखा दिया आपने जेन्नी जी !
    बहुत सुन्दर प्रस्तुति !

    ~सादर
    अनिता ललित

  11. vaah jenny ji….bade yatharth haiku likhe hai aapne paise par…badhai aapko

  12. स्नेह और समर्थन के साथ मेरे हाइकु पसंद करने के लिए आप सभी का हार्दिक धन्यवाद!


रचनाओं से सम्बन्धित आपकी सार्थक टिप्पणियों का स्वागत है । ब्लॉग के विषय में कोई जानकारी या सूचना देने या प्राप्त करने के लिए टिप्पणी के स्थान पर पोस्ट न करके इनमें से किसी भी पते पर मेल कर सकते हैं- hindihaiku@ gmail.com अथवा rdkamboj49@gmail.com.

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / बदले )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / बदले )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / बदले )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / बदले )

Connecting to %s

श्रेणी

%d bloggers like this: