Posted by: डॉ. हरदीप संधु | मार्च 12, 2014

मन की सृष्टि


ज्योत्स्ना प्रदीप

1

“मैं” का अंत

युगों-युगों तक हो

मन-बसंत ।

2

बना है यक्ष

वह सुन्दर वृक्ष 

देने में दक्ष ।

3

लगती वृद्धा

सुबह ओस ओढ़े

झरती श्रद्धा ।

4

यामिनी-रति

हो ही गई है सती 

भोर– अग्नि मे

5

पी गई भोर 

नभ से गिरि– मधु 

ये कैसी वधू !

6

वो एक पेड़

पांचाली का मानो हो 

अक्षय-पात्र ।

7

रात के आँसू 

पिये है प्रभात ने 

बात-बात में ।

8

दर्प का सर्प

चला मन से ,पर 

केंचुली छोड़ ।

9

मन की सृष्टि 

सहती अनावृष्टि 

अश्म-सी दृष्टि ।

10

श्रवण-मन

दशरथ-समय

भूल से बींधे ।

11

भूली आलाप 

हो दुर्वासा का शाप

मानो नदी को ।

-0-

Advertisements

Responses

  1. भूली आलाप
    हो दुर्वासा का शाप
    मानो नदी को ।
    anokhe se sunder saje dhaje haiku
    bahut bahut badhai
    rachana

  2. दुर्वासा का शाप नदी को …. ekdam anoothi kalpana…

  3. sabhi haikubahut achhe likhe hain. jyotsna ji apako bahut badhai.
    pushpa mehra.

  4. भूली आलाप

    हो दुर्वासा का शाप

    मानो नदी को ।
    बहुत सुन्दर…बधाई…|

  5. “मैं” का अंत
    युगों-युगों तक हो
    मन-बसंत ।—बहुत दिनों से इसी भाव पर लिखना चाह रही थी , आपने लिखा तो बहुत अच्छा लगा | “मैं ‘ शब्द ही मुझे भाता नहीं है | बाकी सभी हाइकु भी बहुत भाव पूर्ण | बधाई आपको |

  6. एक-एक हाइकु बेजोड़ है …मानो माला में मोती पिरोए हों …फिर भी ‘मैं का अंत’ , ‘यामिनी रति ‘ , ‘दर्प का सर्प’ , ‘दुर्वासा का शाप ‘ …बेहद प्रभावी हैं ..हार्दिक बधाई ज्योत्स्ना प्रदीप जी !!

  7. सभी हाइकू गहन भाव लिए हुए ।

  8. aap sabhi bahut sunder likhte hai …..mere utsaahvardhan ke liye…dil se duaaye holi bahut shubh ho aap sabhi ki

  9. purnimakatyayan ji utsaahvardhan ke liye bahut bahut aabhaar……holi ki bahut saari shubh kaamnaye…


रचनाओं से सम्बन्धित आपकी सार्थक टिप्पणियों का स्वागत है । ब्लॉग के विषय में कोई जानकारी या सूचना देने या प्राप्त करने के लिए टिप्पणी के स्थान पर पोस्ट न करके इनमें से किसी भी पते पर मेल कर सकते हैं- hindihaiku@ gmail.com अथवा rdkamboj49@gmail.com.

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / बदले )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / बदले )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / बदले )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / बदले )

Connecting to %s

श्रेणी

%d bloggers like this: