Posted by: हरदीप कौर संधु | नवम्बर 29, 2013

घूँघट ओट


तुहिना रंजन

1.

सजा रही वो  

मेहँदी के रंग में  

मीठे सपने  ।

2.

झूमे कजरा    

पुलकित है मन  

चली दुल्हन  ।

3.

रेशमी  सेज  

जूही, गुलाब, बेला 

पिया मिलन ।

4.

चंदा- सी  बिंदी  

पायल की  झंकार  

सिन्दूरी  चाल  ।

5.

नई नवेली  

मंद– मंद मुस्काती  

घूँघट ओट   ।

-0-


Responses

  1. बहुत प्यार हाइकु… बिल्कुल नई-नवेली दुल्हन की तरह… 🙂
    बहुत बधाई तुहिना जी!

    ~सादर
    अनिता ललित

  2. बड़े ख़ूबसूरत हाइकु तुहिना जी…बधाई !

  3. nai naveli ka bhav -shringar karte huyehaiku. tuhina ji apako badhai.
    pushpa mehra.

  4. नई नवेली

    मंद- मंद मुस्काती

    घूँघट ओट ।……बेहद प्यारे ..मधुर हाइकु …बहुत बधाई तुहिना जी

  5. मनमोहक हाइकु आप को हार्दिक बधाई तुहिना जी

  6. चंदा- सी बिंदी
    पायल की झंकार
    सिन्दूरी चाल …. chanda aur bindi, sinduri chaal …. dono hi upman ekdam anoothe hain …. bahut hi sundar prayog hai …. dulhan ke ghoonghat jaise hi najuk aur sundar haiku ke liye Tuhina ji ko badhai

  7. बड़े ख़ूबसूरत हाइकु तुहिना जी !

  8. मीठे अहसासों में डूबे हाइकू…बहुत सुन्दर…बधाई…|


रचनाओं से सम्बन्धित आपकी सार्थक टिप्पणियों का स्वागत है । ब्लॉग के विषय में कोई जानकारी या सूचना देने या प्राप्त करने के लिए टिप्पणी के स्थान पर पोस्ट न करके इनमें से किसी भी पते पर मेल कर सकते हैं- hindihaiku@ gmail.com अथवा rdkamboj49@gmail.com.

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  बदले )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  बदले )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  बदले )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  बदले )

Connecting to %s

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

श्रेणी

%d bloggers like this: