Posted by: हरदीप कौर संधु | सितम्बर 28, 2013

धीर धरना


 

शशि पाधा

1.

भेजी थी माँ ने

अनुभवों की गाँठ

डोली के संग ।दुल्हन

 2.    

बाँधे समेटे 

गुड़िया के गहने

सीपी के हार ।

 3.    

ऊँचे पहाड़

प्रीतम का अंगना

धीर धरना ।

4.    

देहरी लाँघी

याद -भरी गठरी

मन में बाँधी ।

 5.    

जब भी हिला

तुलसी का बिरवा

 माँ याद आई ।

 6.    

क्यों भिजवाई

उपहार- डलिया

तू तो न आई ।

 7.    

चाँद –सितारे

चुनरिया पे टाँके

 ममता जड़े ।

 8.    

गुनगुनाई

हवाओं ने जो लोरी ,

बेटी मुस्काई ।

 9.    

संग ही जिया

मासूम बचपन

बड़ा न हुआ ।

 10        

ये क्या चाहता

बचपन गली में

मन भागता  ।

 -0-


Responses

  1. आपके ये सभी हाइकु एक से बढ़ कर एक ! आपके हाइकु पढ़कर मेरा मन कहने लगा ” वो बचपन / हमेशा रहे संग / भरे उमंग। ” । शशि जी, हार्दिक बधाई और शुभकामनाएं !

  2. बहुत ही सुंदर हाइकु शशि जी, बधाई आपको और स्नेही हरदीप जी व सहज स्नेही भाई हिमांशु जी को !

  3. आपका लेखन अनुपम है दीदी …बहुत सुन्दर हाइकु ….अनुभव और यादों की गाँठ के साथ सहेजे “गुडिया के गहने ” बहुत प्यारे लगे ….तभी तो …

    संग ही जिया
    मासूम बचपन
    बड़ा न हुआ ।…जी चाहता है ..कभी बड़ा न हो यह बचपन …:)…सादर नमन !

  4. sang hi jiya masoom bachpan bada na hua bahut hi sunder haiku hai.badhai sashi ji.
    pushpa mehra.

  5. उत्कृष्ट हाइकु .

    बधाई .

  6. इन सुन्दर हाइकू के लिए बहुत बधाई…|

  7. भेजी थी माँ ने

    अनुभवों की गाँठ

    डोली के संग ।

    2.

    बाँधे समेटे

    गुड़िया के गहने

    सीपी के हार ।

    अनुभवों की गाँठ के साथ बाँधे समेटे गुडिया के गहने … vidaai ki bela me, bhavnaon ka jeevant chitran …. bahut sundar haiku


रचनाओं से सम्बन्धित आपकी सार्थक टिप्पणियों का स्वागत है । ब्लॉग के विषय में कोई जानकारी या सूचना देने या प्राप्त करने के लिए टिप्पणी के स्थान पर पोस्ट न करके इनमें से किसी भी पते पर मेल कर सकते हैं- hindihaiku@ gmail.com अथवा rdkamboj49@gmail.com.

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  बदले )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  बदले )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  बदले )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  बदले )

Connecting to %s

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

श्रेणी

%d bloggers like this: