Posted by: हरदीप कौर संधु | अगस्त 24, 2013

उपवन मुस्काया


शशि पाधा

 1 

फूल -पाँखुरी

मालिन की डलिया

खुशबू -भरी ।

2

सदा बहार

रात भर झरता 

हरसिंगार  ।

3

छुई -मुई -सी

लजाती सिमटती

लाजवन्ती ।

4

वेदना जले

डाल –डाल पावक

पलाश पले ।

5

आतप- हास

कुंदन -सा शोभित

अमलतास ।

6

गहरी झील

अधमुँदे नयना

नील कमल ।

7

ओ कचनार !

गदराई है डार

छाई बहार ।

8

चम्पा की कली

ओढ़े पीत  चुनरी

किधर चली  ?

9

रूप अनूप

गुलाबों की कलियाँ

पी रहीं धूप ।

10

ओ पारिजात !

आज चुप रहना

सलोनी रात ।

11

झूमे कदम्ब

यमुना की लहरें

छुएँ कदम्ब ।

-0-

 


Responses

  1. o parijar, aaj chup rahana, saloni raa6t

    sabhi haiku acche lage

    pushpa mehra

  2. wahhh lajawab haiku ..sabhi haiku badhiya ..1st 4rth evem 11th wale to bas gajab hai ..subhkamnaye 🙂

  3. “चम्पा की कली /ओढ़े पीत चुनरी / किधर चली ?”बेहतरीन…. सभी हाइकु फूलों की तरह मनभावन हैं। शशि जी, हार्दिक बधाई !

  4. बेहतरीन रचनाएँ

    बधाई .

  5. सभी हाइकु बहुत सुन्दर ….एक से बढ़कर एक …लेकिन ..

    फूल -पाँखुरी

    मालिन की डलिया

    खुशबू -भरी ।…सचमुच ..महक गई हिंदी-हाइकु की डलिया…बहुत बधाई दीदी !

  6. बहुत ख़ूबसूरत हाइकु!
    हार्दिक बधाई… शशि जी!

    ~बिछे हैं फूल
    चलती है लेखनी…
    खुश्बू समेटे…~

    ~सादर!!!

  7. सभी हाइकु बहुत सुन्दर…बहुत बधाई

  8. बहुत ही सुंदर अर्थपूर्ण खुशबू बिखेरते हाइकु शशि जी ….मन महक गया …बहुत बधाई !

  9. फूलों की खुशबू से महकते हिंदी हाइकू सच में बहुत सार्थक लगे … बहुत-बहुत बधाई शशि जी ….

  10. फूल -पाँखुरी

    मालिन की डलिया

    खुशबू -भरी ।

    यूं तो सारे हाइकु प्यारे है पर पेहले हाइकु ने मन को छू लिया।


रचनाओं से सम्बन्धित आपकी सार्थक टिप्पणियों का स्वागत है । ब्लॉग के विषय में कोई जानकारी या सूचना देने या प्राप्त करने के लिए टिप्पणी के स्थान पर पोस्ट न करके इनमें से किसी भी पते पर मेल कर सकते हैं- hindihaiku@ gmail.com अथवा rdkamboj49@gmail.com.

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  बदले )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  बदले )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  बदले )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  बदले )

Connecting to %s

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

श्रेणी

%d bloggers like this: