Posted by: रामेश्वर काम्बोज 'हिमांशु' | अगस्त 12, 2013

मिलन-बेला


1- सुभाष लखेड़ा
1.

ये हरे पत्ते

पेड़ों के जिस्म पर 

सुन्दर लत्ते। 

2.

वर्षा भिगोए

पत्तों को नहलाए

पेड़ हर्षाए।  

3.

पेड़ों के पत्ते 

वर्षा -जल पीकर

मस्ती में आए।  

4.

हरी पत्तियाँ   

देख बुझे दिल की  

जली बत्तियाँ। 

-0-

2-शैफाली गुप्ता 

1

रात-विरह 

भोर मिलन-बेला 

जीवन सत्य 

2

साँवली धरा 

सुनहरा सूरज 

लाया उल्लास  ।

3

लो भोर उगी 

चिड़ियाँ भी चहकीं 

लाई ताज़गी ।

-0-


Responses

  1. आपके सभी सुन्दर – ताजे हाइकु मन को भाये ! शैफाली जी, बधाई और शुभकामनायें !

  2. shefali ji apka rat virah, bhor milan bela jeevan -. satya gahan bhav bhara hai.badhai
    pushpa mehra.

  3. pedon ke patte, varsha jal peekar masti main aay. ye hare patte
    pedon ke jism par sundar latte. sundar upama.aap kaa choka padh kar accha laga. uske liye bhi aapko badhai aur shubh kamanaen.

    pushpamehra

  4. बहुत सुन्दर …नई कोपलों से …भोर के सूरज से …सुन्दर मधुर हाइकु …दोनों हाइकुकारों को बहुत बधाई !

  5. @subhash ji apke haiku umda koti ke hote hai .. 🙂
    ये हरे पत्ते

    पेड़ों के जिस्म पर

    सुन्दर लत्ते।
    badhayi ..

    @shaifali ji ..sabhi haiku badhiya vishesh kar
    रात-विरह

    भोर मिलन-बेला

    जीवन सत्य
    subhkamnaye 🙂

  6. Pushpa ji, Jyotsna ji aur Sunita ji : Aap sabhi ne vaqt nikala aur Haiku psand kiye, Apka bahut – bahut dhanyvaad anytha aajkal hamare paas soosaron ke likhe ko padhne kee fursat kahan ? Bahut – bahut Aabhaar !

  7. Kshma karen aur ” soosaron” ko kripaya ” doosaron ” padhen !

  8. बहुत सुन्दर…आप दोनों को बधाई…|

  9. ,पुष्पा मेहरा जी , ज्योत्स्ना शर्मा जी ,सुनीता अग्रवाल जी, प्रियंका गुप्ता जी – हाइकु पसंद करने के लिए आपका दिल से शुक्रिया।

    प्रकाशनार्थ डॉ हरदीप कौर जी एवं रामेश्वर काम्बोज जी को बहुत -बहुत धन्यवाद !


रचनाओं से सम्बन्धित आपकी सार्थक टिप्पणियों का स्वागत है । ब्लॉग के विषय में कोई जानकारी या सूचना देने या प्राप्त करने के लिए टिप्पणी के स्थान पर पोस्ट न करके इनमें से किसी भी पते पर मेल कर सकते हैं- hindihaiku@ gmail.com अथवा rdkamboj49@gmail.com.

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  बदले )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  बदले )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  बदले )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  बदले )

Connecting to %s

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

श्रेणी

%d bloggers like this: