Posted by: रामेश्वर काम्बोज 'हिमांशु' | जुलाई 4, 2013

हिन्दी हाइकु -जन्म दिन


1-नलिनीकान्त

उषा रानी का

सुहाग का सिंधौरा

ललका गोला ।

-0-

2-नीलमेन्दु सागर

पूस की शाम

पश्मीना ओढ़े खड़ी

अकेली डरी ।

-0-

3-डॉ हरदीप कौर सन्धु

मौन में मन

रोआँ -रोआँ नहाया

मीत को पाया  ।

-0-

4-डॉ जेन्नी शबनम

हुई बावरी

सपनों में गुज़रा

चाँद का रथ।

-0-

5-डॉ.ब्रह्मजीत गौतम

दु:ख की नदी

बह रही जग में

आदि काल से ।

-0-

6-तुहिना रंजन

जीवन-नदी

कैसे करूँगी पार

टूटी है नौका ।

-0-

7-सुशीला शिवराण

प्यार ने कहा-

वादों की हदों पार

हमें पाओगे।

-0-

8-डॉ उमेश महादोषी

तेरी आँखों में

जीवन कण बसे

बाँट तू इन्हें ।

-0-

9-अनिता ललित

पूनम चाँद

यादें सौगात लाया

खो जाए दिल !

-0-

10-अनुपमा त्रिपाठी

चंद्रिका  हँसे

अमृतमय मन

मुखर मौन ।

-0-

11-सावित्रीचन्द्र

कोयल बोली-

यादों के देवदार

हिले ना डुले।  

-0-   

12-मुमताज टी एच खान

मन के पंछी

कर बसेरा वहाँ

 खुशियाँ जहाँ।

-0-

13- नमिता राकेश

दूर हूँ तो भी

एहसास की खुशबू

छू लेगी उसे ।

-0-

14-ऊषा अग्रवाल ‘पारस’

तोड़ के धागा

कठपुतली भागी

विद्रोह जागा ।

-0-

15-उमेश मोहन धवन

बच्चे का हाथ

कोमल अहसास

फाहा रुई का

-0-

16-घनश्याम नाथ कच्छावा

बरखा रानी

बरसाओ तो पानी

धरती प्यासी !

-0-

17-जया नर्गिस

फूल शाख़ पे

खिले रहें, न मरें

पूजा यूँ करें ।

-0-

18-जोगिन्दर सिंह थिंद

ख्यालों की भीड़

गुम हुए सपने

मिले कहाँ से ।

-0

19-शोभा रस्तोगी

ढोलक पात

सरसर घुँघरू

नाचे वसंत । 

-0-

20-ज्योतिर्मयी पन्त

चाँदी- सी धूप

सोना अमलतास

गर्मी सजाये ।

-0-

21-ज्योत्स्ना प्रदीप

खो गई सारी

वे कागज़ की नावें

सूखा है गाँव ।

-0-

22-डॉ अमिता कौंडल

घोर सन्नाटा

छा  गया जीवन में

झूठा था प्यार ।

-0-

23-शशि पाधा

धुँधला रूप

कोहरे में गुम -सी

बौराई धूप ।

-0-

24-डॉ आरती स्मित

खाँसती धरा

छटपटाता नभ

जाएँ तो कहाँ  ।

-0-

25-सीमा स्‍मृति

अपने संग

सहेजती मैं रंग

तितली बन।

-0-

26-डा उर्मिला अग्रवाल

पसरे हुए

दर्द भरे सन्नाटे

दोस्ती के गाँव ।

-0-

27-डॉ क्रान्ति कुमार

हवा- बाँसुरी

बजाती सी निकली

बँसवाड़े  से ।

-0-

28-सुभाष लखेड़ा

नाव जिनकी

तूफ़ान में जा फँसे

वे कैसे हँसे !

-0-

29-मंजु गुप्ता

मन की पीड़ा

लिख रही कविता

अश्रु की नदी ।

-0-

30-डॉ नूतन गैरोला

सुनो पाषाण !

पथराती गई मैं

तुम्हें पूजते ।

-0-

31-डॉ मीना अग्रवाल

बेटियाँ सभी

ठण्डी हवा के झोंके

धूप न कभी ।

-0-

32-डॉ सरस्वती माथुर

प्रेम -दीपक

जला जब मन में

खिला यौवन ।

-0-

33-डॉ रमा द्विवेदी

प्रेम का स्पर्श

सात सुर जगाता

एक हो जाता ।

-0-

34-डॉ सारिका मुकेश

जब भी आई

भिगों गई अँखियाँ ।

मधुर यादें ।   

-0-

35-श्याम सुन्दर अग्रवाल
फाइल खुली
पढ़ीं तेरी चिट्ठियाँ
रोया था मन ।
-0-
36-रेनु चन्द्रा
सूनी हवेली
सन्नाटे गूँजते हैं
कुछ कहते ।
-0-
Advertisements

Responses

  1. हिन्दी हाइकु
    फले फूले सदैव
    यही कामना

  2. संपन्न रहे
    हाइकु परिवार
    यही प्रार्थना।

  3. हिन्दी हाइकु -वर्षगाँठ की इस पोस्ट में अपने हाइकु को सम्मिलित पा कर गौरव का अनुभव हो रहा है ,बहुत बहुत धन्यवाद ,

  4. हाइकु का अंकुरित बीज आज अपनी चौथे वर्ष में प्रवेश करा है . खूब पल्लवित – पुष्पित हो .हमारी हाइकु परिवार और आदरणीय हिमांशु जी संग हरदीप जी को हार्दिक शुभकामनाएँ .

    इस स्वर्णिम अवसर पर साहित्यकारों के साथ अपना हाइकु को पढ़कर काबिले फ़ख्र हो रहा है . आभार .

  5. हिंदी हाइकु की तीसरी वर्षगांठ पर संधु जी और हिमांशु जी को ढेर सारी शुभकामनाये , यह परिवार खूब फले और फूले यही कामना है . हार्दिक शुभकामनाये

  6. भावपूर्ण हाइकु प्रस्तुति के साथ बहुत सुन्दर आयोजन है …सभी के लिए बहुत बहुत बधाई …हार्दिक शुभ कामनाएँ !!

  7. बहुत ही सुंदर संकलन !
    अपने-आप को आप सभी के बीच पाकर गौरवान्वित महसूस कर रही हूँ! 🙂
    सभी हाइकुकारों को बहुत-बहुत बधाई व अनेकों शुभकामनाओं सहित! 🙂

    कहे हाइकु,
    गागर में सागर…
    भरो तो जाने!:)

    ~सादर
    अनिता ललित!

  8. अति सुन्दर संकलन। सभी को बहुत बहुत बधाई।हिन्दी हाइकु वर्षगांठ पर आदरनीय हिमांशु जी एवं हरदीप जी को मेरी शुभ कामनाऐं।
    रेनु चन्द्रा

  9. सभी हाइकुकारों को बहुत-बहुत बधाई व अनेकों शुभकामनायें |
    हिन्दी हाइकु वर्षगांठ पर आदरनीय हिमांशु जी एवं हरदीप जी को मेरी शुभ कामनाऐं।


रचनाओं से सम्बन्धित आपकी सार्थक टिप्पणियों का स्वागत है । ब्लॉग के विषय में कोई जानकारी या सूचना देने या प्राप्त करने के लिए टिप्पणी के स्थान पर पोस्ट न करके इनमें से किसी भी पते पर मेल कर सकते हैं- hindihaiku@ gmail.com अथवा rdkamboj49@gmail.com.

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / बदले )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / बदले )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / बदले )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / बदले )

Connecting to %s

श्रेणी

%d bloggers like this: