Posted by: रामेश्वर काम्बोज 'हिमांशु' | दिसम्बर 30, 2012

जगे उम्मीद


 

1-डॉ सरस्वती माथुर

1


बेटी न भार


उसकी अस्मिता हो

क्यों शर्मसार ?

-0-

 

 

2-मंजु गुप्ता 

1

अलाव तापें

गलियों – चौराहों पे 

बेबस लोग । 

2

चिल्ले जाड़े में 

मचता खूब शोर 

हाय रे ठंडी  !

3

सर्द हवाएँ

चीरती तन- मन 

देती सजाएँ ।

4

बेदर्द शीत 

हैं  सुन्न  उर -द्वार 

तुम न लौटे ।।

 5

विदा बेला  ने 

ठिठुरे  दिसंबर 

जश्न मनाए ।

6

बर्फवारी की 

चादर ओढ़कर।

सोई प्रकृति ।  

-0-


2-अरुण सिंह 
रुहेला

1

चंचल कली

ओढ़ धुंध– दुशाला 

खिलने चली 

2

हाथ के छाले 

ण्डे चूल्हे से सेंके

बाल श्रमिक 

3

भेदके स्वप्न 

जगाता है जग को 

भूख का भूत 

4

जगे उम्मीद 

चट्टान का हौसला 

जीत प्रपात ।

-0-

 

 

Advertisements

Responses

  1. सुन्दर हाइकु सरस्वती जी बधाई।
    मंजु जी, अरुण जी जाड़े से जुड़े सभी हाइकु बहुत सुन्दर…बधाई।

  2. कृष्णा जी नव वर्ष की शुभकामनाओं के साथ आभार .

  3. सभी हाईकु बहुत बढ़िया !
    डॉ सरस्वती माथुर जी, मंजू गुप्ता जी अरुण सिंह रूहेला जी आप सभी को …. हार्दिक बधाई !
    ~सादर !!!

  4. आप सभी बौद्धिक पारखियों का आभार , नववर्ष की मंगल कामनाओं के साथ .

  5. मंजु जी, अरुण जी सभी हाइकु बहुत सुन्दर!
    बधाई …..नव वर्ष की हार्दिक शुभकामनाओं के साथ!

  6. आप सभी आदरणीय गुरुजन व मित्रों का आभार , नववर्ष की मंगल कामनाओं के साथ.. अरुण रुहेला !!!

  7. सभी हाइकु बहुत सुन्दर !
    डॉ सरस्वती माथुर जी, मंजु गुप्ता जी अरुण सिंह रुहेला जी आप सभी को …. हार्दिक बधाई !


रचनाओं से सम्बन्धित आपकी सार्थक टिप्पणियों का स्वागत है । ब्लॉग के विषय में कोई जानकारी या सूचना देने या प्राप्त करने के लिए टिप्पणी के स्थान पर पोस्ट न करके इनमें से किसी भी पते पर मेल कर सकते हैं- hindihaiku@ gmail.com अथवा rdkamboj49@gmail.com.

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  बदले )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out /  बदले )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  बदले )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  बदले )

Connecting to %s

श्रेणी

%d bloggers like this: