Posted by: रामेश्वर काम्बोज 'हिमांशु' | दिसम्बर 22, 2011

‘हाइकु -रत्न सम्मान’


हाइकु के क्षेत्र में गुणात्मक कार्य करने के लिए  डॉ भावना कुँवर और डॉ हरदीप कौर सन्धु  को अखिल भारतीय हिन्दी प्रसार  प्रतिष्ठान  पटना के द्वारा  18 दिसम्बर 2011 को ‘बिहार राज्य  माध्यमिक शिक्षक संघ  भवन पटना में ‘हाइकु -रत्न सम्मान’  से सम्मानित किया गया ।आप दोनों ने हिन्दी हाइकु को उच्चकोटि के काव्य की श्रेणी में लाने के लिए बहुत अध्यवसाय किया है ।‘हिन्दी हाइकु’  परिवार के लिए इससे बड़ी खुशी कुछ नहीं हो सकती । प्रभु से कामना है कि आप दोनों की लेखनी हिन्दी साहित्य में अहर्निश इसी प्रकार योगदान करती रहे और आपके हाइकु अपनी सुगन्ध से हिन्दी विश्व को सुरभित करते रहें ।

             अपार प्रसन्नता     और    शुभकामनाओं के साथ

रामेश्वर काम्बोज ‘हिमांशु’

Advertisements

Responses

  1. भावनाजी, हरदीपजी यह जानकर आपार हर्ष हुआ कि आप दोनों को हाइकु-रत्न सम्मान से सम्मानित किया गया….हार्दिक शुभ कामनाएँ

  2. हरदीप जी और भावना जी को ढेर सारी बधाइयाँ और शुभकामनायें!

  3. Bahut-bahut aabhar kamboj ji or piry mitron…

  4. डा हरदीप संधू जी और डा .भावना कुंवर जी बधाइयाँ और शुभ कामनाएं .

  5. अभिवयक्ति ह्रदय से निकाल कर ह्रदय में समा जाए और मन में घर कर अजय, उसमें दक्षता आप दोनों की अभिव्यक्ति में देखी.
    डा हरदीप संधू जी और डा .भावना कुंवर जी बधाइयाँ और शुभ कामनाएं .

  6. भावना जी और हरदीप जी को हायकु-रत्न से सम्मानित होने के लिए बधाइयों से भरा कलश भेंट —|

  7. वे अच्छे हाइकुकार जो ‘हिन्दी हाइकु’ में प्राय: छपते हैं और गुणात्मक सर्जन कर रहे हैं, उनके नाम किसी षडयन्त्र के कारण एक आधे अधूरे ज्ञानकोश से हटवाए गए हैं । यही नहीं मेरा नाम बहुत पहले से वहाँ मौज़ूद था , उसे भी सूची से हटवाया गया है । रचनाकार पाठकों के दिल में बसता है , ओछे षडयन्त्रों से न उसे मिटाया जा सकता है और न ओछे तरीकों से उसे आसमान पर चढ़ाया जा सकता है । डॉ भावना कुँअर और डॉ हरदीप कौर सन्धु का ्यह सम्मान केवल इन दो रचनाकारों का ही सम्मान नहीं वरन् उन सबका सम्मान है जो जो अच्छी रचनाओं को पढ़ना और रचना चाहते हैं। मैं ऐसे हर रचनाकार को नमन करता हूँ और सच्चे मन से प्यार करता हूँ । हम सबका यह कारवां इसी तरह चलता रहेगा ।साहित्य हमारे लिए सेवा है, किसी से पैसा ऐंठने का या किसी की चरण वन्दना करने का साधन नहीं । जो अच्छा होगा वह बचेगा ,जो प्राणहीन लेखन होगा , उसे कोई नहीं बचा सकता । भले ही कोई यशलोभी कालपात्र बनाकर उसे जमीन में दबा दे ।

  8. ढेर सारी बधाइयाँ और शुभकामनायें!

  9. हरदीप जी और भावना जी को बहुत सारी बधाइयाँ और शुभकामनाएँ…। आदरणीय काम्बोज जी ने बहुत सही कहा है कि अच्छे लेखक के स्तरीय साहित्य को कोई मिटा नहीं सकता…।

  10. भावना जी , हरदीप कौर जी बधाइयाँ प्रेषित कर रही हूँ .

  11. ढेर सारी बधाइयाँ और शुभकामनायें!

  12. भावनाजी को और हरदीप जी को बहुत बहुत बधाई…मन प्रसन्नता से भर उठा यह समाचार पाकर…अच्छे लेखन की कद्र होगी तभी आने वाला साहित्य भी अनुप्रेरित होकर अच्छा और श्रेष्ठ आएगा…

  13. यह हम सबके लिए बहुत गर्व की बात है कि हरदीप जी एवं भावना जी को हाइकु रत्न सम्मान से नवाजा गया है ….बहुत -बहुत हार्दिक बधाई एवं शुभकामनाएं ,हरदीप जी एवं भावना जी …आप यूं ही यशस्वी हों, इन्हीं मंगलकामनाओं के साथ ….सस्नेह …

  14. are wahhhhhhhhhhhhhh bahut bahut badhai ho aapdono ko sada aese hi samman milta rahe .
    punha badhai
    rachana

  15. Hardeep ji our Bhawna ji ko haardik BDHAI.

  16. हरदीप जी और भावना जी आपको ढेरों बधाइयाँ. ढेरों शुभकामनायों सहित
    अमिता

  17. Bhawna ji aur Hardeep ji ko ‘haiku ratn samman’ ke liye haardik badhai aur shubhkaamnaayen.

  18. हरदीप जी आपकी पहचान के सितारे भारत में दमक रहे है. अगर आप भारत में है तो मिलने की सम्भावना बरक़रार है..मैं मुंबई में हूँ
    **
    अभिवयक्ति ह्रदय से निकाल कर ह्रदय में समा जाए और मन में घर कर अजय, उसमें दक्षता आप दोनों की अभिव्यक्ति में देखी.
    बहुत अभूत शुभकामनाएं , डॉ भावना कुँवर और डॉ हरदीप कौर सन्धु आपको इस सन्मान के लिए बहुत बधाई व् शुभकामनाएं
    सस्नेह
    देवी नागरानी

  19. Hardeep ji aur Bhawna ji ko hamari taraf se bahut – bahut badhai aur shubhkaamnayen.

  20. हमारी और से भी बधाई ..,शुभकामनाएँ स्वीकारें .आगे और यश मिले,साहित्य –
    सेवा का क्रम सदा चलता रहे —-इन्ही शुभकामनाओ के साथ —
    डॉ क्रांति.कुमार

  21. डा हरदीप संधु जी और डा .भावना कुंवर जी बधाइयाँ और शुभकामनाएं

  22. आप सब ने जो स्नेह और सम्मान हम दोनों को दिया है , उसके लिए तहे -दिल से आपका शुक्रिया करती हूँ । आपका प्रोत्साहन , आपकी सकारात्मक प्रेरणा मुझे सदा आगे बढ़ने की ताकत देती है। उम्मीद करती हूँ कि भविष्य में भी आपका स्नेहभाव इसी तरह बना रहेगा ।

  23. Aap sabhi ka tahe dil se shukriya , aap logon se jo sneh mila ye usi ka parinaam hai aap logon ka sneh hamen yun hi milta rahe bas yahi kamna hai…yahi sneh hamen srjan ke naye-naye aayam deta hai…ek baar fir se sabhi mitron ka shukriya…

  24. परम प्रिय डॉ भावना कुँअर और डॉ हरदीप जी ! आप दोनों को हाइकु रत्न सम्मान मिला , यह हिन्दी के लिए गौरव का विषय है। ‘ भावना जी ‘तारों की चूनर’ जैसी हाइकु की स्तरीय और परिपक्व कृति देकर जहाँ आपने विधा का महत्त्व बढ़ाया है, वहां यह भी अहसास कराया है कि विशद अनुभव और गहन अनुभूति के बिना अच्छा साहित्य नहीं रचा जा सकता ।
    डॉ हरदीप जी ! आपने हिन्दी हाइकु के माध्यम से उत्कृष्ट हाइकु का एक कोश ही तैयार कर दिया है ।सम्पादन के साथ आपने भावपूर्ण सर्जन भी किया । औरों को भी प्रोत्साहित किया है। प्रभु से कामना है कि आप दोनों निरन्तर प्रगति के पथ पर अग्रसर रहें। मुझे देर से आपके सम्मान की जानकारी मिली ।मेरी मंगलकामनाएँ सदा आपके साथ हैं।
    हार्दिक स्नेह के साथ
    डॉ सुधा गुप्ता , मेरठ

    बढ़ाया

  25. हरदीप जी एवं भावना जी… हाइकू रत्न सम्मान के लिए हार्दिक अभिनन्दन स्वीकार करें……जब भी हिंदी में हाइकू, विधा की बात होगी आप लोगों का योगदान सदैव याद किया जायेगा…
    सादर
    मंजु

  26. हरदीप जी एवं भावना जी… हाइकू रत्न सम्मान के लिए हार्दिक अभिनन्दन स्वीकार करें……

  27. Aap donoN ko bahu bahut badhaee !

  28. जब किसी को सम्मान मिलता है इसमें लेखक की अपनी योग्यता के साथ-साथ पाठकों का भी बड़ा हाथ होता है | लिखने वाले के लिए जरूरी है कि उसको पढ़ने वाला भी कोई हो | कुछ ऐसा ही मेरे और भावना जी के साथ हुआ है …ईश्वर की दुआ से हमको आप सभी पाठक मिले जिन्होंने हमें प्यार और सम्मान दिया | प्रभु से यही दुआ है कि आप सबका प्यार हमारे लिए ऐसे ही बना रहे |
    हरदीप

  29. जब किसी को सम्मान मिलता है इसमें लेखक की अपनी योग्यता के साथ-साथ पाठकों का भी बड़ा हाथ होता है | लिखने वाले के लिए जरूरी है कि उसको पढ़ने वाला भी कोई हो | कुछ ऐसा ही मेरे और भावना जी के साथ हुआ है …ईश्वर की दुआ से हमको आप सभी पाठक मिले जिन्होंने हमें प्यार और सम्मान दिया | प्रभु से यही दुआ है कि आप सबका प्यार हमारे लिए ऐसे ही बना रहे |
    हरदीप


रचनाओं से सम्बन्धित आपकी सार्थक टिप्पणियों का स्वागत है । ब्लॉग के विषय में कोई जानकारी या सूचना देने या प्राप्त करने के लिए टिप्पणी के स्थान पर पोस्ट न करके इनमें से किसी भी पते पर मेल कर सकते हैं- hindihaiku@ gmail.com अथवा rdkamboj49@gmail.com.

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / बदले )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / बदले )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / बदले )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / बदले )

Connecting to %s

श्रेणी

%d bloggers like this: