Posted by: रामेश्वर काम्बोज 'हिमांशु' | अगस्त 10, 2011

जिजीविषा


1-राजेश बिस्सा

1

जिंदगी क्या है?

जिजीविषा अनोखी

सदा बेचैनी

2

कैसी बेबसी

जीना चाहता वह

डोर ना मिली

3

उफ़! जिंदगी

आह ना लेने देती

बेबसी देती

4

जीवन -डोर

दायित्वों में उलझी

बड़ी कठोर

5

जीवन -स्वप्न

रहे कैसे प्रसन्न

शाश्वत प्रश्न

6

सोचा तो जाना

जीवन है बेगाना

पर ना जाना

-0-

2-अनंत आलोक

1

नदी का शोर

मुरली मनोहर

झूमता मोर ।

2

श्याम जलद

नदियाँ उफनती

धारा गगन ।

-0-

3-त्रिलोक सिंह ठकुरेला

1

नहीं लौटता

उन्हीं लकीरों पर

समय–रथ ।

2

नहीं टूटते

अपनत्व के तार

आखिर यूँ ही ।

3

कटे जब से

हरे भरे जंगल

उगीं बाधाएँ ।

4

मुस्कानें कहाँ

शहरों के अन्दर

कोलाहल है ।

-0-



Responses

  1. sari rachanaye pasand aayee. rajesh bissa ek nayaa naam hai. is liye inhen atirikt shbhkamanaye.

  2. जीवन -डोर
    दायित्वों में उलझी
    बड़ी कठोर

    जंगल जला
    जलता जाये फिर
    बारिश खाता ।

    नहीं लौटता
    उन्हीं लकीरों पर
    समय–रथ ।

    अच्छे हाइकु…बधाई|

  3. आदरणीय गिरीश भैय्या,
    सादर प्रणाम,
    आपके मार्गदर्शन व हौसला अफजाई का परिणाम है। आपने इस विधा के बारे में जो बारीकी से समझाया बस उसकी ही यह उपज है जो आपको सादर अर्पित है।
    ॰॰॰॰॰॰॰॰॰॰ राजेश बिस्सा

  4. धन्यवाद ऋता शेखर ‘मधु’ जी आपका बहुत आभार ॰॰॰ शुभकामनायें ॰॰॰ राजेश बिस्सा

  5. Dhanyabad Madhu Ji,
    TRILOK SINGH THAKURELA
    http://www.triloksinghthakurela.blogspot.com

  6. प्रणाम.. एक एक रचना कितना कुछ कह रही है.. ! वाह !

    कैसी बेबसी
    जीना चाहता वह
    डोर ना मिली

    मुस्कानें कहाँ
    शहरों के अन्दर
    कोलाहल है

    बहुत अच्छे लगे.. !


रचनाओं से सम्बन्धित आपकी सार्थक टिप्पणियों का स्वागत है । ब्लॉग के विषय में कोई जानकारी या सूचना देने या प्राप्त करने के लिए टिप्पणी के स्थान पर पोस्ट न करके इनमें से किसी भी पते पर मेल कर सकते हैं- hindihaiku@ gmail.com अथवा rdkamboj49@gmail.com.

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  बदले )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  बदले )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  बदले )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  बदले )

Connecting to %s

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

श्रेणी

%d bloggers like this: